रेलवे कर्मचारियों के बल्ले बल्ले! आज से लागू हुआ यह नया न‍ियम, जानकर खुश हो जाएंगे आप..

train officials

डेस्क : आजादी के अमृत महोत्‍सव के तहत Indian Railways अपने 13 लाख कर्मचार‍ियों के ल‍िए बड़ी खुशखबरी लेकर आई है। जिन रेलवे कर्मचारियों की समस्या थी कि उनकी तैनाती घर से दूर रहती है, उनके लिए बड़ी खबर है। तो घर से दूर तैनात कर्मचारी अपने घर के नजदीक ट्रांसफर कराने की तमाम कोशिशें करते रहते हैं। इसमें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। पर अब उनके ट्रांसफर का काम आसानी से कर दिया जाएगा।

रेलवे कर्मचारियों के बल्ले बल्ले! आज से लागू हुआ यह नया न‍ियम, जानकर खुश हो जाएंगे आप.. 1
रेलवे कर्मचारियों के बल्ले बल्ले! आज से लागू हुआ यह नया न‍ियम, जानकर खुश हो जाएंगे आप.. 4

कर्मचारियों को होगी ट्रांसफर की आजादी : रेलवे बोर्ड (Railway Board) ने एक पॉलिसी तैयार की है, जिसके तहत रेलवे के 13 लाख कर्मचारी अपने ट्रांसफर को लेकर आजाद रहेंगे। इस पॉलिसी को इसे 15 अगस्त 2022 से देशभर में लागू कर दिया गया है। मालूम हो रेलवे में भी अलग-अलग तरह के ट्रांसफर होते रहते हैं।

Longest Train route in India
रेलवे कर्मचारियों के बल्ले बल्ले! आज से लागू हुआ यह नया न‍ियम, जानकर खुश हो जाएंगे आप.. 5

ऐसा है ट्रांसफर माड्यूल : कर्मचारियों की ट्रांसफर से जुड़ी परेशानियों का निपटारा करने के क्रम में रेल मंत्रालय ने 15 अगस्‍त 2022 (सोमवार) से ट्रांसफर माड्यूल की शुरुआत की है। जिसके तहत रेलवे के सॉफ्टवेयर बनाने वाले संगठन सेंटर फोर रेलवे इंफोर्मेशन सिस्टम (CRIS) ने कर्मचारियों के प्रबंधन के लिए एक अहम माड्यूल तैयार क‍िया है। इसको एचआरएमएस (NRMS) नाम दिया गया है।

रेलवे बोर्ड के मुताबिक इंटर जोनल और इंटर डिव‍िजनल ट्रांसफर के ल‍िए सभी एप्‍लीकेशन ऐसे ही फाइल होंगी। साथी ही जिंक3 ट्रांसफर एप्लिकेशन पहले से पेंडिंग हैं, उसे भी इस पर ही अपलोड क‍िया जाएगा। रेलवे अधिकारियों ने बताया इस माड्यूल के लागू होने से ट्रांसफर में ट्रांसपेरेंसी आ जाएगी।

अधिकार‍ियों का कहना है क‍ि “किसी स्टाफ का ट्रांसफर का समय आने पर वह एचआरएमएस में ऑनलाइन आवेदन कर सकेगा। एक ही जगह के ल‍िए दो आवेदन आने पर पहले वाले को वरीयता दी जाएगी। कर्मचारी के आवेदन पत्र पर सुपरवाइजर, ब्रांच अधिकारी और कार्मिक विभाग के अधिकारी भी राय दे सकेंगे। लेकिन ट्रांसफर पर अंतिम निर्णय डीआरएम या एडीआरएम का ही होगा।”

ये भी पढ़ें   अगर Loan चुकाने से पहले कर्जदार की मृत्यु हो जाती है, तो बाकी पैसा किसे देना होगा? जानें - नियम