अब Post Office ड्रोन से पहुंचाएगा आपका सामान, पायलट परियोजना के तहत ट्रायल हुआ सफल..

post office drone service

डेस्क : पायलट प्रोजेक्ट के तहत पहली बार भारतीय डाक विभाग ने गुजरात के कच्छ जिले में ड्रोन की मदद से डाक पहुंचाई। बताया जा रहा है कि इस ड्रोन ने 25 मिनट में 46 किलोमीटर की दूरी तय की। पीआईबी अहमदाबाद के अनुसार, केंद्रीय संचार मंत्रालय के मार्गदर्शन में, मेल कच्छ जिले के भुज तालुका के हाबे गांव से भचाऊ तालुका के नेर गांव तक पहुंचाया गया था। इस पायलट प्रोजेक्ट की सफलता से भविष्य में ड्रोन के जरिए डाक पहुंचाना संभव होगा।

PIB ने कहा कि आधुनिक तकनीक को अब ध्यान में रखते हुए भारतीय डाक विभाग ने देश में पहली बार इस ड्रोन की मदद से गुजरात के कच्छ में मेल डिलीवरी का पूरी तरह से सफल पायलट ट्रायल किया है। विज्ञप्ति के अनुसार, ड्रोन को पार्सल को शुरुआती बिंदु से 46 किमी दूर स्थित गंतव्य तक पहुंचाने में 25 मिनट का समय लगा।

केंद्रीय संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान द्वारा ट्विटर पर साझा की गई जानकारी के अनुसार, पार्सल में चिकित्सा संबंधी सामग्री थी। विज्ञप्ति में कहा गया है कि पायलट प्रोजेक्ट ने विशेष रूप से ड्रोन द्वारा मेल को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने की लागत का अध्ययन किया। इसके साथ ही इस दौरान डाक पहुंचाने के कार्य में लगे कर्मचारियों के बीच समन्वय की भी परीक्षा ली गयी.

बयान के अनुसार, यदि प्रयोग व्यावसायिक रूप से सफल होता है, तो डाक पार्सल सेवा तेज गति से काम करेगी। चौहान ने शनिवार को ट्वीट किया कि देश जहां 2022 ड्रोन महोत्सव मना रहा है, वहीं डाक विभाग ने गुजरात के कच्छ में ड्रोन के जरिए डाक वितरण का पायलट ट्रायल सफलतापूर्वक किया है। ड्रोन ने दवा के पार्सल को 30 मिनट में 46 किलोमीटर की हवाई दूरी को सफलतापूर्वक पूरा किया।

ये भी पढ़ें   बेटी भविष्य की नो टेंशन! महज ₹5000 महीना जमा कर पाएं 25 लाख रुपये, यहां जानिए सबकुछ..