May 19, 2022

सुनहरा मौका! बकरी पालन के लिए मिल रही है सस्ती लोन, होगी बंपर कमाई -सरकार करेगी पूरी मदद

bakri one

न्यूज़ डेस्क : कोरोना महामारी के कारण हुए लॉकडाउन के बाद व्यापार के प्रति लोगों का झुकाव बढ़ा है। इसी कड़ी में बकरी पालन का बिजिनेस चरम पर है। इसकी वजह बकरी के दूध औषधि के रूप में काम आने के अलावा लोगों में मटन की बढ़ती मांग है। कोई भी व्यापार करने से पहले पूंजी की आवश्यकता होती है।

इसकी चिंता करने भी जरूरत नहीं, क्योंकि बकरी पालन के  लिए आपको आराम से लोन मिल सकता है। बकरी पालन को आगे  बढ़ने के लिए राज्य सरकारें बैंकों को नाबार्ड की सहायता से सब्सिडी योजनाएं प्रदान करती हैं। बकरी पालन के लिए नाबार्ड का सहयोग सबसे अधिक है। यह बकरी पलकों को लोन दिलवाने में सबसे आगे है। यह कई वित्तीय संस्थानों के सहयोग के माध्यम से लोगों को  लोन प्रदान करता है

इसमें वाणिज्यिक बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, राज्य सहकारी कृषि, ग्रामीण विकास बैंक, राज्य सहकारी बैंक, शहरी बैंक आदि शामिल है।  सरकार द्वारा बकरी पलकों को इसके खरीद के लिए कुल खर्च का 25-35 फीसदी सब्सिडी दी जाती है। अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति समुदाय के लोग और बीपीएल श्रेणी में आने वाले को 33 प्रतिशत तक सब्सिडी मिलती है। ओबीसी से संबंधित अन्य 25 प्रतिशत सब्सिडी के लिए उत्तरदायी हैं, अधिकतम राशि 2.5 लाख रुपये तक है।

इस प्रक्रिया के साथ सकते हैं बकरी पालन की शुरुआत : बकरी पालन करने के लिए इच्छा रखने वालों को बस कुछ बेसिक बिंदुंओ का ख्याल रखना होगा। बकरी पालन शुरू करने के लिए एक आवेदन पत्र लिखकर विकास खंड के पशु चिकित्सा अधिकारी को जमा कर सकते हैं। पशु चिकित्सा अधिकारी यहां आए आवेदनों में से कुछ आवेदनों का चयन करता है।  अब ये आवेदन जिला स्तरीय जिला पशुधन मिशन समिति को भेजे जाते हैं।  यह समिति अंतिम चयन करती है।