May 19, 2022

EPFO कर्मचारी की जाएगी किस्मत! अगले महीने Account में क्रेडिट होंगे इतने रुपए, जानिए डिटेल में..

epfo scheme

डेस्क : निजी क्षेत्र में काम करने वाले करोड़ों लोगों को जल्द ही EPFO की ओर से तोहफा मिलने वाला है। दरअसल पीएफ पर ब्याज दर पहले ही तय हो चुकी है। अब इस पर वित्त मंत्रालय की मुहर लगने में ही देरी हो रही है। इसके बाद ईपीएफओ सदस्यों के पीएफ खाते में कभी भी ब्याज जमा किया जा सकता है।

कोई आधिकारिक घोषणा नहीं है : रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार अगले महीने के अंत से पहले यानी 30 जून से पहले कभी भी पीएफ खाताधारकों को ब्याज का पैसा ट्रांसफर कर सकती है. हालांकि इस बारे में ईपीएफओ की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है और न ही सरकार ने कोई घोषणा की है. चूंकि पीएफ पर ब्याज की दर तय हो गई है, इसलिए लोगों को उम्मीद है कि जल्द ही उनके खाते में ब्याज का पैसा भी जमा हो जाएगा। इससे EPFO ​​के साढ़े छह करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर्स को फायदा होगा।

epfo 7 lakh ka fayda

अब इतना कम ब्याज मिल रहा है : अभी PF पर ब्याज दर कई दशकों के सबसे निचले स्तर पर है। ईपीएफओ ने 2021-22 के लिए पीएफ की ब्याज दर 8.1 फीसदी तय की है। यह 1977-78 के बाद से पीएफ पर ब्याज की सबसे कम दर है। इससे पहले 2020-21 में पीएफ पर 8.5 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा था। वित्त वर्ष 2020-21 में पीएफ की ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया। इससे ठीक एक साल पहले 2019-20 में इस ब्याज दर को 8.65 फीसदी से घटाकर 8.5 फीसदी कर दिया गया था.

ऐसे होती है ईपीएफओ की कमाई : EPFO पीएफ खाताधारकों के खाते में जमा रकम को कई जगह निवेश करता है। इस निवेश से होने वाली कमाई का एक हिस्सा खाताधारकों को ब्याज के रूप में दिया जाता है। फिलहाल ईपीएफओ 85 फीसदी डेट ऑप्शन में निवेश करता है। इनमें सरकारी प्रतिभूतियां और बांड भी शामिल हैं। बाकी 15 फीसदी का निवेश ईटीएफ में किया जाता है। पीएफ का ब्याज डेट और इक्विटी आय के आधार पर तय होता है।