28 January 2023

सतर्क रहें! डीलर उपभोक्ताओं को दे रहे है प्लास्टिक वाले चावल? सामने आया सच..

Dealer

डेस्क : बिहार के मसौढ़ी में जन वितरण प्रणाली द्वारा राशन कार्डधारियों को जो चावल बांटा गया है उसे प्लास्टिक का चावल बताया जा रहा है. लोगों में इस चावल को लेकर संशय है और डर इस बात का है की इस प्लास्टिक चावल खाने से किसी तरह की बीमारी तो नहीं होगी. राशन कार्डधारियों का कहना है कि वितरण किए गए चावल में प्लास्टिक चावल मिला हुआ है जो बनाने पर गलता नहीं है बल्कि इससे बीमारी का खतरा लगता है.

कुमारी मृदुला का यह कहना है कि यह है आम चावल की तरह नहीं है. जब इसे भुना बनाया जाता है तो यह फूटता भी नहीं है और जस का तस ही रह जाता है. इसके साथ ही चावल को कितना भी उबाला जाए मगर यह गलता नहीं है. वहीं उज्जवल कुमार का कहना है कि यह चावल आम चावल से देखने मे भी काफी अलग दिखता है. देखने में यह थोड़ा बड़ा चावल दिखाई देता है और यह गलता भी नहीं है. यहाँ के जन वितरण प्रणाली से यह वितरित किया जा रहा है. इस पर हम यहाँ के अनुमंडल अधिकारी और जिला अधिकारी से जांच की मांग भी करते हैं.

इस संबंध में आपूर्ति पदाधिकारी मसौढ़ी मुकेश कुमार का यह कहना है कि इस तरह के चावल में कोई प्लास्टिक चावल नहीं मिला हुआ है, बल्कि इसमें एक प्रतिशत प्रोटीनयुक्त फोर्टिफाइड चावल मिला हुआ है. यह स्वास्थ के लाभदायक है और कुपोषण, एनिमिया में फायदेमंद भी होता है.