Wednesday, July 17, 2024
Business

LIC Scheme : महज 296 रुपये की बचत करके इकट्ठा करें 60 लाख, जानिए- कैसे?

LIC Scheme : देश के मिडिल क्लास लोग अपने भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित बनाने के लिए कई तरह की योजनाओं में निवेश कर रहे हैं। इस तरह की योजनाएं केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा भी चलाई जा रही हैं जिनमें आप पोस्ट ऑफिस में बैंक में जाकर निवेश कर सकते हैं।

इसी प्रकार भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) द्वारा भी सभी आय वर्ग के लोगों के लिए अलग-अलग है। ऐसी योजना चलाई जा रही है जिनमें कम राशि निवेश कर आप एक बड़ा फंड तैयार कर सकते हैं। आज हम आपको LIC की एक ऐसी ही शानदार स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका नाम जीवन लाभ योजना है। इसमें आप छोटी-छोटी रकम निवेश कर मैच्योरिटी तक एक बड़ा फंड तैयार कर सकते हैं। आइये जानते है इसके बारे में….

ये LIC की एक नॉन लिंक स्कीम है जिसमें पॉलिसी धारक को लाइफ कवरेज के साथ-साथ ही बचत करने का मौका भी दिया जा रहा है। इसमें आपको बीमा योजना के साथ ही बचत करने का मौका भी मिलता है। अगर आप LIC की इस योजना में निवेश करते हैं तो मैच्योरिटी तक आपको लंपसम राशि मिलेगी।

LIC की इस योजना के अंतर्गत अगर बीमाधारक की अचानक किसी कारण से मौत हो जाती है तो ऐसी स्थिति में भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) द्वारा उसके परिवार वालों को सम एश्योर्ड राशि दी जाती है।

अगर आप भी LIC की इसी योजना में निवेश करना चाहते हैं तो आपको 296 रुपये का इन्वेस्टमेंट करना होगा जिसके बाद मैच्योरिटी पर आपको 60 लाख रुपये मिल जाएंगे। आइये आपको समझते हैं कि किस तरह से आप छोटी सी निवेश राशि से इतना बड़ा फंड तैयार कर सकते हैं?

उदाहरण के तौर पर समझ लेते हैं कि आपकी उम्र 25 साल है और आप अगले 25 सालों तक इस योजना में निवेश करना चाहते हैं। ऐसे में आपको LIC की इस योजना में हर दिन 296 रुपये का निवेश करना होगा। इस प्रकार आप हर महीने में 8,893 रुपये की सेविंग कर लेंगे। इस तरह से एक साल में ये राशि 1,04,497 रुपये हो जाती है। आपको यह राशि LIC की जीवन लाभ योजना में निवेश करनी होती है और मैच्योरिटी के समय आपको 60 लाख रुपये की राशि मिलती है।

Durga Partap

दुर्गा प्रताप पिछले 1 सालों से बतौर Editor में के रूप में thebegusarai.in से जुड़े। इन्हें बिजनेस, ऑटोमोबाइल्स और खेल जगत से जुड़ी खबरे को गहराई से लिखने में काफी दिलचस्पी है। पिछले 5 साल से वह कई समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लगातार योगदान देते रहे हैं। दुर्गा ने MDSU से BCA की पढ़ाई पूरी की है।