8 February 2023

Bank Strike : बैंक कर्मचारी करेंगे हड़ताल – बैंकिंग और ATM सेवाएं होंगी ठप, जानें –

Bank Strike : बैंक कर्मचारी करेंगे हड़ताल - बैंकिंग और ATM सेवाएं होंगी ठप, जानें - 1

डेस्क : यदि आपको बैंक से जुड़ा कोई काम अगले हफ्ते निपटना है तो आपके काम की है। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए) के सदस्यों ने हड़ताल का ऐलान कर दिया है। जिस वजह से अगले सप्ताह देश भर में बैंकिंग सेवाएं प्रभावित रहेंगी। इस बारे में बैंक ऑफ बड़ौदा ने कहा है कि ‘एआईबीईए के महासचिव ने भारतीय बैंक संघ को हड़ताल का नोटिस दिया है, जिसमें बताया गया है कि उनके सदस्य 19 नवंबर 2022 को हड़ताल पर जाने का प्रस्ताव रखते हैं।’

क्यों हो रही हड़ताल
ये हड़ताल एआईबीईए सदस्यों की मांगों को सपोर्ट करने के लिए हड़ताल पर जा रहे हैं। हालांकि बैंक हड़ताल के दिनों में बैंक की शाखाओं और ऑफिसेज के सुचारू कामकाज के लिए आवश्यक कदम उठा रहा है, लेकिन हड़ताल की स्थिति में, शाखाओं के साथ साथ ऑफिसों का कामकाज प्रभावित हो सकता है। ये जानकारी बैंक ऑफर बड़ौदा ने जाहिर की है।

दरअसल, 19 नवंबर को बैंकों की छुट्टी नहीं है उस दिन तीसरा शनिवार है। मालूम हो महीने के पहले और तीसरे शनिवार को सभी बैंक खुले होते हैं। तो 19 को बैंक तो खुलेंगे पर हड़ताल के कारण उनमें कामकाज प्रभावित हो सकता है।

अक्टूबर में भी हुआ ऐलान
आपको बता दें इसके पहले एआईबीईए के महासचिव सीएम वेंकटचलम ने कहा था कि ‘यूनियन में सक्रिय होने के लिए बैंकरों के लक्षित उत्पीड़न के विरोध में सदस्य हड़ताल करेंगे। हाल ही में उत्पीड़न बढ़ा है। उत्पीड़न के पीछे एक एक साजिश भी बताई गयी है।

इसलिए एआईबीईए स्तर पर इन हमलों का विरोध, जवाबी कार्रवाई और प्रतिकार किया जा रहा है।’ इतना ही नहीं वेंकटचलम का दावा है कि एआईबीईए यूनियन के सदस्यों को सोनाली बैंक, एमयूएजी बैंक, फेडरल बैंक और स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक सहित उधारदाताओं से बर्खास्त / छंटनी की गई है। इसके साथ उन्होंने बताया कि 3,300 से अधिक क्लरिकल कर्मचारियों का ट्रांसफऱ कर दिया गया है, जो द्विपक्षीय समझौता और बैंक-स्तरीय समझौते के खिलाफ है।

एआईबीओसी की शिकायत के बाद पीटीआई ने रिपोर्ट जारी किया है। रिपोर्ट के अनुसार, ‘अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ (एआईबीओसी) ने भी विदेशी बैंक स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक द्वारा एचआर प्रेक्टिस के उल्लंघन का आरोप लगाया है और तत्काल कार्रवाई के लिए बैंक के सीईओ से अनुरोध करते हुए एक ज्ञापन सौंपा है।

यूनियन ने यह भी आरोप लगाया कि बैंक कई बार याद दिलाने के बावजूद एसोसिएशन ऑफ स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक ऑफिसर्स (कोलकाता) एएससीबीओ को मान्यता देने में देरी कर रहा है। एआईबीओसी की महासचिव सौम्या दत्ता हैं। उन्होंने स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक के प्रबंधन से सर्विस कंडीशंस में सुधार, मेहनताने में सुधार और हायर एंड फायर नीति को रोकने सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करने के लिए एएससीबीओ के साथ बातचीत शुरू करने का आग्रह किया।

ऐसा न करने पर यूनियन एक्शन ले सकती हैं। 19 दिन शनिवार है और अगले दिन रविवार। इसके चलते बैंक लगातार दो दिन बंद रहेंगे। इस प्रकार से लोगों को दो दिन लगातार बैंक की सेवाओं से दूर रहना पड़ेगा। एआईबीईए के महासचिव सीएच वेंकटचलम ने कहा है कि बैंक कर्मचारी हड़ताल पर जाने से पहले धरना-प्रदर्शन भी किया जाएगा। ऐसे में आप अपने काम ऑनलाइन तरीकों से निपटा सकते हैं।’