1 February 2023

अब जमीन रजिस्ट्री कराने में नहीं लगेगा मनमाना पैसा – इन तरीकों से बचाएं लाखों रुपए…

land registry

जमीन खरीदना एक सपना जैसा होता है। हर कोई अपने जीवन में जमीन और तमाम संपत्ति अरजना चाहता है। ऐसे में जमीन रजिस्ट्रेशन के समय कई सारे प्रक्रियाओं से गुजारना पड़ता है। इन प्रक्रियाओं को पूरा करने के लिए काफी खर्च भी होते हैं। मालूम हो कि जमीन खरीदने पर रजिस्ट्रेशन में भी काफी पैसे लगते हैं। आपके कुल संपत्ति में खर्च होने वाले राशि के 5 से 7% तक हो सकते हैं।

ऐसे में यदि आप लाखों रुपए वाली जमीन खरीद रहे हैं। तो आप इसमें से करीब 3 से 4 लाख रुपए बचा सकते हैं। आज हम को ऐसे तरीके बताएंगे जिससे रजिस्ट्री पर लगने वाले शुल्क से राहत मिलेगी। तो आइए विस्तार से जानते हैं।

बाजार मूल्य पर रजिस्ट्री शुल्क का भुगतान करें : स्टेट स्टांप एक्ट के तहत एक प्रावधान है, जिससे आप रजिस्ट्री पर कुछ पैसे बचा सकते हैं। इसके लिए आपको रजिस्टार या सब रजिस्टार से अपील करके स्टांप ड्यूटी पर छूट देने के लिए रिक्वेस्ट करना होगा। इसके बाद संबंधित अधिकारी आपके रिक्वेस्ट को डीसी के पास भेजेगा जो कि बाजार मूल्य के मुताबिक स्टांप शुल्क का आकलन करते हुए आपको स्टांप ड्यूटी पर राहत प्रदान किया जाएगा।

अविभाजित भूमि की रजिस्ट्री ; रजिस्ट्री पर होने वाले खर्च से बचने के लिए आप अविभाजित भूमि खरीद सकते हैं। इकोनॉमी टाइम्स के मुताबिक अविभाजित भूमि खरीदने पर रजिस्ट्री शुल्क पर राहत मिलता है। ऐसा करने पर आप करीब 2 से 3 लाख रुपए तक का बचत कर सकते।

महिला के नाम पर छूट ; बता दें कि किसी भी महिला के नाम पर संपत्ति खरीदा जाता है तो उन्हें स्टांप शुल्क और रजिस्ट्रेशन शुल्क में छूट दिया गया है। ये छूट कई राज्यों में दिया जा रहा है। इन राज्यों में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और उत्तर प्रदेश शामिल है। दिल्ली सरकार का दावा है कि यदि कोई पुरुष अपने नाम पर रजिस्टर्ड जमीन को महिला के नाम पर 6 फीसदी और 4 फीसदी महिला के नाम पर रजिस्ट्री फीस भुक्तान करना होगा।