केंद्र सरकार आपके लिए लाया बेहतरीन स्कीम – हर माह मिलेंगे 9 हजार रुपये, बस करना होगा इतना निवेश..

Pradhan Mantri Vaya Vandana

डेस्क : आज के दौर वित्तीय योजना बना कर रखना में आर्थिक संतुलन बनाए रखने के लिए सावधानीपूर्वक वित्तीय योजना बनाने की जरूरत है। क्योंकि इस समय ये कहना मुश्किल है की किसे कब आर्थिक मुसीबतों का सामना करना पड़े। इसीलिए आर्थिक रूप से सुरक्षित भविष्य के लिए, कमाई के समय निवेश करने की आवश्यकता है। सेवानिवृत्ति के बाद निवेश ही आर्थिक सहायता देगा। कहीं निवेश करना भी समझदारी का खेल बन गया है।

वैसे तो बाजार में कई तरह के निवेश के विकल्प मौजूद हैं। इसमें कोई दोहमत नहीं है की आप जिस विकल्प की तलाश में हैं उसे आप एक सुरक्षित और अधिकतम रिटर्न प्राप्त कर सकें। तो, ये है सरकार की योजना प्रधानमंत्री वय वंदना योजना। इस खबर में आपको इस योजना से जुड़ी सारी बातें बताते हैं।

क्या है Pradhan Mantri Vaya Vandana योजना : प्रधानमंत्री वय वंदना योजना एक सामाजिक सुरक्षा योजना है। इसके तहत लाभार्थी को मासिक पेंशन मिलने की सुविधा है। साल 2020 में इस योजना को कहा गया है, इस योजना का संचालन भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) द्वारा किया जा रहा है। 60 साल की उम्र की अधिक के लोग लोग अधिकतम 15 लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं।

बता दें योजना के तहत निवेश की सीमा पहले 7.5 लाख रुपये थी। जिसके अब बढ़ा कर 15 लाख कर दिया गया है। बाकी योजनाओं की बराबरी में वरिष्ठ नागरिकों को इस योजना में अधिक ब्याज मिलता है। इस योजना में 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के लोग मासिक या वार्षिक पेंशन योजना का चयन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें   सावधान! एक से ज्यादा Bank Account है तो कटेंगे अनगिनत पैसे, बचने के लिए जान लीजिए ये नियम..

निवेश योजना : इस योजना के तहत आपको 7.40 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। तदनुसार, निवेश पर वार्षिक ब्याज 111000 रुपये होगा। यदि इसे 12 महीनों में विभाजित किया जाता है, तो 9250 रुपये की राशि बनती है, जो आपको मासिक पेंशन के रूप में मिलेगी। अगर आप 1000 रुपये मासिक पेंशन लेना चाहते हैं तो आपको 1 लाख 50 हजार रुपये का निवेश करना पड़ेगा।

बता दें ये योजना 10 सालों के लिए है। आपने जितनी राशि जमा की हैं वो आपको मासिक पेंशन के रूप की मिलते रहेगी। यदि इस योजना में आप 10 साल तक बने रहते हैं तो तो आपका निवेश किया हुआ पैसा आपको वापस कर दिया जाएगा। आप इस योजना को कभी भी सरेंडर कर सकते हैं।