सुशांत सिंह राजपूत की मौत का राज अब जल्द ही खुलेगा, इस केस में अमेरिका करेगा डिजिटल फुटप्रिंट की मदद..

SSr

न्यूज डेस्क: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत मामले अभी तक नहीं सुलझा है। जबकि, देश की तमाम एजेंसियां इस केस पर काम कर रही है, लेकिन, फिर भी इस केस का मामला ज्यों की त्यों पड़ा हुआ है। लेकिन इसी बीच खुशी खबर यह है कि अब इस केस में अमेरिका की एजेंसी मदद करेगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने अमेरिका (America) से मदद मांगी है,

अमेरिका से सीबीआई ने सुशांत सिंह के ईमेल और सोशल मीडिया अकाउंट से डिलीट हुए डेटा को फिर से हासिल करने के संबंध में मदद मांगी है। जांच एजेंसी ने कहा कि “डेटा को हासिल करके इस बात का पता लगाने का प्रयास किया जाएगा कि 14 जून (2020) को हुई आत्महत्या की घटना की क्या वजह रही होगी। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद जांच एजेंसिया यह पता लगाने में लगी हैं कि इसके पीछे कौन- कौन से राज छिपे हैं, CBI अब इस मामले में उन डिजिटल फुटप्रिंट भी पहचान करने के फिराक में है जो मिटाये जा चुके हैं। इस संबंध में सीबीआई ने अमेरिका से मदद मांगी है।

बताते चले की अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के ईमेल और सोशल मीडिया अकाउंट्स के उन सभी डिलीट किए जा चुके डेटा को वापस लाने की पूरी कोशिश कर रही है, CBI ने इस मामले में कई राज का पता लगा लिया है, लेकिन उन्हें शक है कि डिलीट किये गये सोशल मीडिया पोस्ट और ईमेल में उन्हें अहम सुराग मिल सकते हैं। CBI अमेरिका से यह उम्मीद इसलिए कर रहा है क्योंकि कैलिफोर्निया स्थित गूगल और फेसबुक से MLAT (Mutual Legal Assistance Treaty) के तहत जानकारी मांगी गई है,

CBI ने गूगल और फेसबुक से सुशांत के डिलीटेड चैट, ईमेल या पोस्ट की डिटेल शेयर करने की अपील की है, ताकि उनका एनालिसिस किया जा सके और निष्कर्ष तक पहुंचने में कुछ मदद मिल सके। भारत और अमेरिका के पास एमएलएटी है, जिसके तहत दोनों पक्ष किसी भी घरेलू जांच के संबंध में जानकारियां हासिल कर सकते हैं, जो हालांकि आमतौर पर संभव नहीं हो सकता है।

You cannot copy content of this page