May 17, 2022

The Kashmir Files को लेकर उमर अब्दुल्ला का बड़ा बयान, कहा – फिल्म ने सब कुछ बर्बाद कर दिया..

amar abdullah on the kashmir files

डेस्क : डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म The Kashmir Files इन दिनों सोशल मीडिया पर सुर्खियों में है। एक ओर फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई कर रही है। तो वही दूसरी तरफ देश में फिल्म देखने के लिए मानो भूचाल सा आ गया है। हर कोई यह फिल्म देखने को बेताब है।

लेकिन समाज का एक वर्ग ऐसा भी है जो इस फिल्म को प्रोपेगेंडा मान रहा है और सत्य से दूर बता रहा है। इस लिस्ट में जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला भी शामिल हैं। इस फिल्म को लेकर उमर अब्दुल्ला ने बड़ी बात कह दी। उन्होंने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को कई मामलों में सच्चाई से काफी दूर बता दिया है, उनका कहना है कि अगर यह फिल्म एक डॉक्यूमेंट्री भी होती, हम समझ सकते थे।

लेकिन, मेकर्स ने खुद कहा है कि ये फिल्म सत्य घटनाओं पर आधारित है। लेकिन सच्चाई तो ये है कि इस फिल्म में कई गलत तथ्य दिखाए गए हैं। उमर अब्दुल्ला का साफ तौर पर कहना है, की इस फ़िल्म में सबसे बड़ा झूठ तो ये है कि उस सयम नेशनल कॉन्फ्रेंस की सरकार थी। लेकिन सच तो ये है कि तब घाटी में राज्यपाल का शासन था। वहीं, केंद्र में भी तब वीपी सिंह की सरकार थी और उसको बीजेपी का समर्थन हासिल था। उन्होंने ये भी कहा कि उस समय कश्मीरी पंडितों के अलावा मुस्लिमों, सिखों ने भी पलायन किया था।

उनकी भी जान गई थी, वह मानते हैं कि कश्मीरी पंडितों का घाटी से जाना दुखद था। दावा किया गया है कि एनसी अपनी तरफ से कश्मीरी पंडितों को वापस लाने की तैयारी कर रही थी। लेकिन “द कश्मीर फाइल्स” फिल्म ने उस प्लान को बर्बाद कर दिया है। गौरतलब है, इससे पहले भी कई विपक्षी नेता इस फिल्म को लेकर अपनी बातें कर चुके हैं। छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने भी कश्मीर फाइल्स को आधा सच बताने वाली फिल्म बताया था। वहीं, शिवसेना नेता संजय राउत ने एक कदम आगे बढ़कर फिल्म को ‘एजेंडा’ बता दिया था। वैसे इस फिल्म की तारीफ और आलोचना दोनों हो रही है, लेकिन क्योंकि मुद्दा इतना संवेदनशील है, ऐसे में मेकर्स की सुरक्षा अपने आप में बड़ी चुनौती बन गया है, इसी वजह से केंद्र ने डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री को Y श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला किया है।