रातों में असहनीय दर्द से कराहते थे Kapil Sharma, इस गंभीर बीमारी का आज भी चल रहा है इलाज – बताया शो बंद होने का कारण

Kapil Sharma

डेस्क : कॉमेडी नाइट्स विद कपिल शर्मा के बारे में तो आपको पता ही होगा। यदि आप नहीं जानते तो बता दें कि भारत के सबसे मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा अपना कॉमेडी शो चलाते हैं और जनता का मनोरंजन करते हैं। ऐसे में उन्होंने अपने शो से जुड़ा एक खुलासा किया है, बता दे कि जब वह शो को बंद कर चुके थे तो लोगों ने यह जिज्ञासा दिखाई थी कि आखिर कपिल शर्मा के साथ ऐसा क्या हुआ जो उन्हें शो बंद करना पड़ा।

Kapil Sharma has the wittiest excuse for being busy on his second wedding  anniversary with wife Ginni Chatrath : Bollywood News - Bollywood Hungama

कपिल शर्मा का कहना है कि वह लंबे समय से अपनी शारीरिक समस्याओं से जूझ रहे थे। उनको कमर में इतना जोर का दर्द होता था जिस वजह से उनको शो बंद करना पड़ा था। वह जब कमर दर्द से गुजरते थे तो अपने आप को हेल्पलेस महसूस करते थे। ऐसे में जब कपिल शर्मा के चाहने वालों को यह पता चला कि उनके कमर में दर्द हुआ तो उन्होंने इच्छा जाहिर की कि आखिर ऐसा क्या हुआ जो कपिल शर्मा की कमर में दर्द होने लगा।

Sidharth Malhotra, Kiara Advani Celebrate Success of Shershaah on The Kapil  Sharma Show

बता दे कि कपिल शर्मा को पहली बार 2015 में दर्द हुआ था। जब वह शूटिंग पर थे। उन्होंने डॉक्टर से बातचीत की जिन्होंने उनको दवाई दी। दवाई से तुरंत आराम मिल गया लेकिन बीमारी जस की तस बनी रही। इसके बाद फिर से वह कमर का दर्द वापस आ गया। कपिल शर्मा अपने कमर के दर्द की वजह से काफी परेशान हो गए थे और उनके जीवन में बदलाव आ गया था। उन्हें ऐसा लग रहा था कि अब उनकी मदद कोई नहीं करेगा। डॉक्टर ने कहा था कि आप बिस्तर से उठ नहीं सकते हैं। ऐसे में कपिल शर्मा का वजन उन दिनों बढ़ता चला गया था क्योंकि वह सिर्फ एक जगह पड़े रहते थे। पूरे दिन वह पानी वाली डाइट पर जी रहे थे, बता दें कि इस दर्द में आदमी रात में कराहता रहता है।

Kapil Sharma

फिलहाल के लिए कपिल शर्मा शो का तीसरा सीजन धूम मचा रहा है, जिसको लोग खूब पसंद कर रहे हैं। हाल ही में स्पाइन डे मनाया गया है जिसके चलते कपिल शर्मा ने अपनी कमर से जुड़ी समस्या को जनता के आगे रखा और उनको जागरूक किया। उन्होंने कहा कि अपनी कमर का हमें हमेशा ध्यान देना चाहिए।

You may have missed

You cannot copy content of this page