बड़ी खबर: DRUGS CASE के मामलें में रकुल प्रीत सिंह और राणा दग्गुबाती सहित इन बड़े सेलेब्स को ED ने भेजा समन

डेस्क: सूत्रों से मिली जानकारी से पता चला है कि शीर्ष अभिनेता रकुल प्रीत सिंह(Rakul Preet Singh),राणा दग्गुबाती(Rana Daggubati) और 10 अन्य लोगों से चार साल पुराने ड्रग्स के मामले में पूछताछ की जाएगी। प्रवर्तन निदेशालय ने 6 सितंबर को रकुल प्रीत सिंह, 8 सितंबर को बाहुबली अभिनेता राणा दग्गुबाती, 9 सितंबर को तेलुगु अभिनेता रवि तेजा(Ravi Teja) और 31 सितंबर को निर्देशक पुरी जगन्नाध को बुलाया है।रकुल प्रीत सिंह, राणा दग्गुबाती , रवि तेजा या पुरी जगन्नाथ को आरोपी के रूप में नामित नहीं किया गया है। एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा, “यह कहना समय से पहले है कि क्या वे मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल हैं या नहीं ।”

आपको बता दे यह मामला 2017 का है जब तेलंगाना आबकारी और निषेध विभाग ने 30 लाख की ड्रग्स जब्त करने के बाद 12 मामले दर्ज किए थे। 11 मामलों में आरोप दायर किए गए हैं। बाद में, प्रवर्तन निदेशालय ने आबकारी विभाग के मामलों में मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल से इसकी जांच शुरू की थी।अब तक इसमें 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 62 अन्य लोगों से ड्रग्स के मामले के संबंध में तेलंगाना आबकारी विभाग ने पूछताछ की है। जिन लोगों से पूछताछ की गई उनमें से ग्यारह फिल्म उद्योग से जुड़े हैं। पिछले वर्षों में हैदराबाद में ड्रग्स की कई बड़े मामलें सामने आए हैं। सबसे बड़ा मामला जुलाई 2017 में हुआ, जब छापे में कम से कम 13 लोगों से भारी मात्रा में एलएसडी और कोकीन जब्त की गई थी।आबकारी विभाग ने कहा कि ड्रग्स का इस्तेमाल करने में स्कूल और कॉलेज के छात्र भी शामिल हैं।

कम से कम 26 स्कूलों और 27 कॉलेजों, और माता-पिता को भी सूचित किया गया था।गिरफ्तार किए गए लोगों का लिंक पुणे, मुंबई और दिल्ली से है, जो गोवा और हैदराबाद में पब, शैक्षणिक संस्थानों और रेव पार्टियों के लिए प्रतिबंधित दवाओं के प्रमुख सप्लायर है। अधिकारियों ने कहा कि डीलर अच्छी तरह से शिक्षित हैं और उनमें से कुछ शीर्ष कंपनियों के साथ कार्यरत हैं। गिरफ्तार लोगों में से छह इंजीनियरिंग स्नातक हैं।

You cannot copy content of this page