1 February 2023

Chirag Paswan की चमकी किस्मत! क्या मिलेगी मोदी मंत्रिमंडल में सीट? जानें – पूरा गणित..

Chirag Paswan की चमकी किस्मत! क्या मिलेगी मोदी मंत्रिमंडल में सीट? जानें - पूरा गणित.. 1

डेस्क : लोजपा LJP के मुखिया और जमुई से सांसद चिराग पासवान को जान से मारने की धमकी मिली थी जिसके बाद से केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उनकी सुरक्षा व्यवस्था को और भी पुख्ता करते हुए उन्हें Z श्रेणी की सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई है, चिराग पासवान बिहार में एक बड़े नेता के रूप में उभर रहे हैं वहीं उनकी नजदीकी आए दिन हो BJP के साथ भी देखी जा सकती है

बिहार में केंद्रीय राज्य मंत्री नित्यानंद राय के अलावा चिराग पासवान दूसरे ऐसे नेता है जिन्हें Z कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है चिराग पासवान को IBकी प्रशासन रिपोर्ट के बाद या सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई और वह अब VIP सुरक्षा व्यवस्था में रहेंगे यह सुरक्षा व्यवस्था उन्हें इससे बिहार में ही दी जाएगी

कुल 33 सुरक्षाकर्मी होंगे तैनात:

जमुई सांसद चिराग पासवान को अब Z श्रेणी की सुरक्षा दी गई है जिसमें कुल 33 सुरक्षाकर्मी तैनात किए जाएंगे इसके अलावा हथियारों से लैस 10 सुरक्षाकर्मी उनके घर पर भी तैनात होंगे लोजपा मुखिया चिराग पासवान की सुरक्षा में बढ़ोतरी करके इसके राजनीतिक मायने भी निकाले जा रहे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बढ़ती नजदीकियां इसका कारण भी बताई जा रही है क्योंकि बिहार में हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी की जीत में चिराग पासवान ने काफी सहायक भूमिका निभाई थी कई बार चिराग पासवान खुद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हनुमान भी बता चुके हैं, आजकल राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा का विषय है कि भाजपा चिराग पासवान पर लगातार मेहरबान क्यों है।

नीतीश के दबाव पर NDA से हुए थे बाहर

असेंबली इलेक्शन में कुल 43 सीटों पर सिमटे JDU के नेता नीतीश कुमार की उनसे खुन्नस ऐसी रही कि चिराग पासवान की पार्टी को NDA से बाहर जाना पड़ा था। हालांकि उन्होंने BJP के प्रति अपनी निष्ठा में कोई कमी नहीं आने दी थी। वह अपने को प्रधानमंत्री मोदी का हनुमान बताते रहे। नीतीश कुमार ने इसका बदला उनकी पार्टी को दो फाड़ करा के लिया भी । रामविलास पासवान के भाई पशुपति पारस ने 6 में 5 सांसदों को लेकर अपना एक अलग गुट भी बना लिया। इसके बाद में पार्टी का विधिवत विभाजन भी हो गया। इसके बावजूद चिराग ने BJP के प्रति अपनी निष्ठा में कोई कमी नहीं आने दी। उन्होंने असेंबली के हाल ही हुए उपचुनावों में BJP उम्मीदवारों का समर्थन किया।