तेजप्रताप के खिलाफ चुनाव लड़ सकती हैं पत्नी ऐश्वर्या राय!

पटना. लालू प्रसाद यादव की बहू ऐश्वर्या राय के अपने पति तेज प्रताप के खिलाफ चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे हैं.दरअसल बीते दिसंबर में ये खबरें आम हुई थी कि राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बहू ऐश्वर्या राय को उनके ससुराल से निकाल दिया गया. बाद में शास्त्री नगर थाने में एक मामला भी दर्ज हुआ जिसने इस बात की पुष्टि कर दी कि लालू परिवार में सब ठीक नहीं चल रहा था. तब ऐश्वर्या राय ने बिहार की पूर्व सीएम व अपनी सास राबड़ी देवी और ननद मीसा भारती पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था. उसी वक्त से ये कयास लगाए जा रहे हैं कि पारिवारिक न्याय पाने में विफल रहने वाली ऐश्वर्या राय राजनीतिक न्याय हासिल करने के लिए तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव के सामने चुनौती बनेंगी. बिहार विधानसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही एक बार फिर ये अटकलें तेज हो गई हैं कि लालू की बहू इस बार चुनाव मैदान में अपने ही परिवार के विरुद्ध मुकाबले में रहेंगी.

तेज-तेजस्वी की होगी बैकडोर एंट्री!
ऐश्वर्या के चुनाव मैदान में आने की बातों को तब और बल मिला जब ये चर्चा तेज हो गई कि आरजेडी तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव को विधान परिषद में भेजे जाने पर विचार कर रही है. चर्चा में ये भी बात आ रही है कि दरअसल ऐश्वर्या ने मन बना लिया है कि तेजस्वी या तेज प्रताप में जो भी चुनाव मैदान में रहेगा उसके खिलाफ वो चुनावी मैदान में नजर आएंगी. ऐसे में परिवार की प्रतिष्ठा बचाने की रणनीति के तहत दोनों भाइयों के विधानमंडल में बैकडोर एंट्री (एमएलसी चुनाव के जरिये) की बात सामने आ रही है.

ऐश्वर्या आएंगी चुनाव मैदान में! मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ये इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि लालू की बहू ऐश्वर्या राय के अपने पति तेज प्रताप यादव नहीं तो तेजस्वी के खिलाफ चुनाव लड़ने की बात सामने आ रही है. ऐसे में आरजेडी रणनीति बना रही है कि इन दोनों को ही बैकडोर से विधानमंडल में एंट्री करवा दी जाए और परिवार की फजीहत भी न हो. बता दें कि तेजप्रताप फिलहाल वैशाली जिला के महुआ सीट से विधायक हैं, लेकिन चर्चा है कि वह विधानसभा की सीट छोड़कर विधान परिषद जा सकते हैं. वहीं तेजस्वी यादव इसी जिले के राघोपुर से विधायक हैं. सूत्रों का कहना है कि तेजस्वी भी विधान परिषद में ही जा सकते हैं. जाहिर है इस बात के सामने आने के साथ ही इस चर्चा ने जोर पकड़ लिया कि ऐश्वर्या चुनाव मैदान में आएंगी.

आरजेडी नेताओं ने कहा-बदनाम करने की साजिश
हालांकि ऐश्वर्या राय के पिता और लालू यादव के समधी चंद्रिका राय ने अनौपचारिक बातचीत में ऐसी किसी भी चर्चा पर अपना पक्ष नहीं रखा. हालांकि वे लालू परिवार में अपनी बेटी के साथ हुए दुर्व्यवहार को नहीं भूले हैं. ऐसे में उनकी मंशा क्या है इसपर अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. वहीं, आरजेडी के सूत्रों से इस बात की पुष्टि करने की कोशिश की गई तो पार्टी के एक कई वरिष्ठ नेताओं ने नाम न छापने की शर्त पर अलग-अलग बातचीत में कहा कि ये सब लालू परिवार को बदनाम करने की साजिश है और ये योजनाबद्ध तरीके से किया जा रहा है, जबकि इसमें रत्तीभर भी सच्चाई नहीं है. बहरहाल इस चर्चा का सच क्या है ये तो तभी सामने आएगा जब लालू परिवार या आरजेडी की ओर से कोई औपचारिक बयान आएगा. लेकिन, फिलहाल कयासों का दौर जारी है.

input : News 18