अनंत सिंह का सुशील मोदी पर तंज, मुंह से बादाम नहीं टूटता और …….से अखरोट तोड़ना चाहते हैं

डेस्क : बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह को कौन नहीं जानता है। कभी नीतीश कुमार की पार्टी में रहे है। तो कभी तेजस्वी के खास पार्टी के रूप में.. अभी हाल ही में बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने अपने टि्वटर हैंडल पर बिहार के पूर्व डिप्टी CM सुशील मोदी को सोशल मीडिया पर ट्वीट करके जो कहा है वो काफी वायरल हो रहा है। उन्होंने पटना में आई बाढ़ के समय का फोटो डाला है।

जिसमें भाजपा के राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी हाफ पैंट में दिख रहे हैं। उनके साथ उनका परिवार भी है। अनंत सिंह ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि “ये वो तुचीया है जिससे मुंह से बादाम नहीं टूटता, ….से अखरोट तोड़ना चाहता है। (द बेगूसराय ओरिजिनल शब्द नहीं बता सकता) एक सोच है। कोई भगोड़ा नहीं।’ अनंत सिंह का गुस्सा सुशील मोदी के उस बयान पर भड़का है, जिसमें उन्होंने लालू के शासन को कुशासन कहा है और उसे लाखों लोगों के पलायन का जिम्मेवार बताया है।

अनंत सिंह ने कहा 19 लाख नौकरी के अवसर : आज से दो दिन पहले अनंत सिंह ने सुशील मोदी के सोशल मीडिया पर दिए बयान पर भी अपने अंदाज में प्रतिक्रिया दी थी। अपने टि्वटर हैंडल पर सुशील मोदी ने कहा था कि “पड़ोसी राज्य में बदलाव होने से बिहार के विकास में मदद मिलेगी और बिहारी मूल के लाखों लोगों को वहां रोजगार के नए अवसर मिलेंगे।” इसी बात पर तंज कसते हुए अनंत सिंह ने कहा कि “और जो बिहार में 19 लाख नौकरी के अवसर का बत्ती बना के कान में डाल लिया ?”

जदयू कभी बीजेपी का पार्टनर और आज निरोध है : दरअसल, बिहार विधान सभा चुनाव के समय भाजपा ने अपने चुनावी घोषणा में करीब 19 लाख नौकरी-रोजगार देने का वादा किया था। इसी बीच अनंत सिंह ने दो दिन पहले सोशल मीडिया पर JDU और BJP गठबंधन पर जो बयान दिया था। वह और भी अजीब था। उन्होंने कहा कि- “जदयू कभी बीजेपी का पार्टनर हुआ करता था, आज निरोध है।”

अनंत ने कहा: बक डिप्लोमा किया है क्या? सुशील मोदी ने जब आज से चार दिन पहले महाराष्ट्र में गवर्नेंस पर सवाल उठाते हुए कहा था कि महाराष्ट्र में गवर्नेंस जीरो लेवल पर है। इसलिए वहां कोरोना सबसे ज्यादा फैल रहा है। उनके इस बयान पर भी अनंत सिंह ने प्रतिक्रिया दी- उन्होंने कहा “बचपन से ऐसे है कि कहीं बक…का डिप्लोमा किया है।