15 अक्टूबर से खुलेगा वाल्मीकि टाईगर रिजर्व, अगर बाघ देखने के शौकीन है तो कम खर्चे में 3 दिन तक करे सैर, यहां से बुकिंग शुरू

Tiger reserve valmiki bihar

न्यूज डेस्क: कोरोना संकट के कारण बीते वीरान पड़े बिहार के वाल्मीकि टाइगर रिजर्व की हसीन वादियां अब फिर से गुलजार होंगी। सरकार ने नये पर्यटन सत्र के शुभारंभ की तिथि 15 अक्टूबर घोषित की है। पर्यटक स्वास्थ्य विभाग के गाइड लाइन का अनुपालन करते हुए वीटीआर आएंगे और यहां की खुबसूरती का दीदार कर सकेंगे। गंडक नदी के किनारे बसा वाल्मीकि नगर बेहद ही खूबसूरत वादियों से घिरा है। बिहार का इकलौता वाल्मीकि टाईगर रिजर्व सज़ धज कर तैयार है।

क्या- क्या है सुविधा?

बिहार में वन महकमा नया टूर पैकेज लेकर आया है जिसे इको टूरिज्म पैकेज कहा जा रहा है। इस पैकेज में पटना से वाल्मीकिनगर तक पर्यटकों को घुमाने का पैकेज रखा गया है। वीटीआर घूमने आने वाले यात्रा के दौरान यात्रीयों को कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा। इस पैकेज में आने-जाने से लेकर भोजन, ठहरने और घूमने की सारी सुविधा है। इस पैकेज के तहत पर्यटक एक रात और 2 दिन के लिए वाल्मीकि नगर का आनंद उठाते थे लेकिन अब नए पैकेज में वाल्मीकि नगर में दो रात व तीन दिन रहने का मौका मिले रहा है। इस पैकेज के तहत पटना से प्रत्येक शुक्रवार को दो बसे खुलेंगी। एक पटना-मंगुराहा-पटना भाया वैशाली जो तीन दिवसीय होगा, केवल शुक्रवार, शनिवार व रविवार का समय निर्धारित किया गया है।

पर्यटक 12 सौ रुपया देकर पर्यटन का आनंद ले सकेंगे। वाल्मीकि नगर में पर्यटक इन चीजों का लुफ्त ले पाएंगे जैसे इको पार्क, जंगल सफारी, कैन्टर सफारी, साईकिल सफारी, गंडक बोट, वाल्मीकि आश्रम, कौलेश्वर झुला, गंडक बराज, हाथी शेड, धार्मिक स्थलों को देख सकेंगे। वही पैकेज अनुसार स्थलों पर जाने का मौका मिलेगा।

You cannot copy content of this page