बेगूसराय सहित बिहार भर में कार्यपालक सहायकों का तीन दिवसीय सामूहिक अवकाश आंदोलन

बेगूसराय : जिले के सरकारी कार्यलयों में कार्यरत कार्यपालक सहायक अपनी नियमितीकरण / सेवा स्थाई और वेतनमान की मांग को लेकर मंगलवार एक सितम्बर से तीन दिवसीय सामूहिक अवकाश का आंदोलन कर रहे है। मंगलवार से कार्यपालक सहायको के सामूहिक अवकाश के कारण आमलोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। इस दौरान आरटीपीएस, तत्काल, लोक शिकायत, रजिस्ट्री विभाग, आपूर्ति, इंदिरा आवास, सहकारिता,क़ृषि विभाग, पंचायती राज विभाग, मनरेगा,ICDS विभाग, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग के अलावे सरकार के सभी विभागों में कार्यरत सभी कार्यपालक सहायक अपनी मूलभूत मांग सेवा स्थाई करते हुए वेतनमान की मांग कर रहे है।

बेगूसराय में संघ ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन जिलाध्यक्ष पप्पू कुमार की अध्यक्षता में संघ के सदस्यों ने डीएम कार्यालय में आंदोलन से सम्बंधित एक ज्ञापन सौंपा गया । जिलाध्यक्ष ने सभी कार्यपालक सहायको का अनुरोध किया है कि इस तीन दिवसीय सामूहिक अवकाश के द्वारा सरकार तक अपनी मुलभुत मांगो को सरकार तक पहुंचाने का कार्य करें जिससे नियमितीकरण सभी का हो सके। उन्होंने कहा कि हमलोगों के कारण राज्य सरकार अपना नाम बिहार में ही नही बल्कि देश के अन्य राज्यो में भी कमा रही है। सरकार हमलोगों के कार्य से खुश होकर कई बार सम्मानित भी करती रहती है। बार बार यही कहा जाता है कि अपलोगों के सेवा को स्थाई कर दिया जाएगा पर अभी तक सेवा स्थाई नही किया गया है।

जिलाध्यक्ष ने वेतनमान की मांगे उठाई जिला अध्यक्ष पप्पू कुमार ने कहा कि सरकार हम लोगों को 60 साल, 10 प्रतिशत सालाना मानदेय में वृद्धि, ईपीएफ, मातृत्व और पितृत्व अवकाश आदि की सुविधा दी है पर सेवा स्थाई नही की है। हम लोगों को भी राज्य सरकार सेवा स्थाई करते हुए वेतनमान करें नही तो सरकार को उसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। प्रथम दिन बेगूसराय जिले के सभी कार्यालय में कार्यरत कार्यपालक सहायक सम्पूर्ण रूप. से सामूहिक अवकाश पर रहे I अब कार्यपालक सहायको ठगने का काम राज्य सरकार बन्द करें। आगामी तीन कार्यपालक सहायक इसी प्रकार सामूहिक अवकाश पर अपनी मुलभूत मांगो के समर्थन में रहेंगे l उक्त जानकारी मिडिया प्रभारी. तुषार रंजन ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी ।