ठंड से राहत मिलने की नहीं है गुंजाइश, 8 से 12 किमी प्रति घण्टे की रफ्तार से चलेगी बर्फीली पछुआ

न्यूज डेस्क : बिहार भर में ठंड से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। अभी भी आने बाले कुछ दिनों तक ऐसे ही ठण्ड रहने की संभावना जताई गई है । भारी ठंड के मारे दलहन और आलू की फसलें भी खराब हो रही है। जिससे किसानों की चिंता बढ़ गयी है डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग द्वारा अगले तीन दिनों के लिए मौसम पूर्वानुमान जारी किया गया है।

पूर्वानुमान की अवधि में लगातार 8 से 12 किलोमीटर की रफ्तार से पछुआ हवा चलेगी। सामान्य से पांच से सात डिग्री कम अधिकतम तापमान रह सकता है। सुबह में कुहासा छाया रहेगा। दिन में धूप निकलेगी, परंतु अगले तीन दिनों तक कनकनी बरकरार रहेगी । इससे ठंड से राहत की उम्मीद नहीं है। मौसम के इस बर्फीले मिजाज के कारण आलू एवं सरसों की फसल काफी प्रभावित हो रही है। आलू की फसल जहां पाला यानी झुलसा रोग से प्रभावित है वहीं सरसों लाही कीट के प्रकोप से प्रभावित हो रहा है।