अब सस्ते में घर बनाइए! बिहार में अक्टूबर से घटेगा बालू का दाम,, 900 घाटों में खनन शुरू करवा रही नीतीश सरकार..

Balu ka rate bihar

डेस्क : यह समय मकान निर्माण के लिए बिल्कुल सटीक है। फिलहाल सरिया की कीमत के बाद अब बालू की कीमत में भी गिरावट देखने को मिल सकता है। प्रदेश के तमाम जिलों में बालू खनन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। आगामी महीने यानी अक्टूबर में राज्य के 28 जिलों में करीब 900 घाटों में बालू खनन का काम आरंभ कर दिया जाएगा। खनन एवं भू तत्व विभाग के निर्देश के बाद सभी जिलों के खनन अधिकारियों ने बंदोबस्त की प्रक्रिया शुरू कर दी है। बालू खनन में लगे ठेकेदारों से ई-निविदा के लिए आवेदन मांगे जा रहे हैं।

बालू खनन पर लगी थी रोक : अदालत के आदेश के बाद राज्य सरकार ने इस साल जून से नदियों से बालू खनन पर रोक लगा दी थी। जिला सर्वेक्षण रिपोर्ट तैयार होने के बाद अब करीब तीन माह बाद विभाग ने नदियों से बालू खनन शुरू करने की दिशा में कवायद शुरू कर दी है। सरकार को उम्मीद है कि एक साथ 28 जिलों में बालू खनन शुरू होने से जहां राज्य का राजस्व बढ़ेगा, वहां ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार भी मिलेगा। साथ ही प्रदेश में बालू की उपलब्धता बढ़ेगी और आम आदमी को उचित दाम पर बालू मिल सकेगी। इससे निर्माण कार्य में तेजी आएगी।

खनन विभाग के सूत्रों के अनुसार इस माह के अंत तक 28 जिलों में खनन शुरू करने के लिए बंदोबस्त की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। विभाग ने बंदोबस्त का अधिकार जिलों को सौंपा है। इसके साथ ही निर्देश दिए गए हैं कि जिले सितंबर के अंत तक यह काम पूरा कर लें। घाटों को छोटे-छोटे हिस्सों में बांटकर राजस्व का आकलन कर बसावट बनाने का काम भी जिलों को सौंपा गया है। बता दें कि कोर्ट के आदेश पर मई 2022 तक सिर्फ 16 जिलों के करीब 435 बालू घाटों से खनन किया जा रहा था।

ये भी पढ़ें   खुशखबरी! अब Bihar के बच्चे विदेश जा कर सकगें पढ़ाई, नीतीश सरकार देगी पैसे जानें- पुरी प्रक्रिया..