बिहार में हुई सबसे महंगे तेल की खोज, कीमत केवल 50,000 रुपये प्रति लीटर

OIl Bhagalpur

न्यूज डेस्क : बिहार में दुनिया के सबसे महंगे तेल का उत्पादन शुरू होगा। यह तेल पचास हजार रुपये प्रति लीटर तक बिक सकेगा । बिहार की भूमि पर आदि काल से ही नवसृजन का भाव समाहित है। बताते चलें कि भारत देश का बिहार राज्य प्रकृति के वरदान से परिपूर्ण और फलीभूत है। इसी कारण राज्य के किसान एक से एक कारनामा करते रहते हैं। अब बिहार की उर्वर धरती से विश्‍व का सबसे महंगा तेल निकाला जाएगा। जिसकी कीमत लगभग 50 हजार रुपये प्रति लीटर है। धरती पर काफी मात्रा में इस तेल का डिमांड है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इसके खरीदार उपलब्धता से कई गुणा अधिक हैं। इस तेल में इतने पोषक तत्‍व हैं कि हर कोई इसका इस्‍तेमाल करना चाहेगा।

बताते चलें कि बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर पान उत्पादक किसानों की बेहतरी के लिए लगातार काम कर रहा है। इसी दिशा में विश्वविद्यालय ने इतिहास रच दिया है। अब विश्वविद्यालय ने GI टैग प्राप्‍त मगही पान के तेल की खोज की गई है। इस तेल से किसानों की आय निश्चित तौर से दोगुनी क्‍या, चार गुनी तक बढाई जाएगी । इसके लिए बिहार के नालंदा स्थित पान अनुसंधान केंद्र, इस्लामपुर में पान से तेल निकालने की हाईटेक मशीन लगेगी। इस काम के लिए टेंडर की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। चयनित कंपनी को जल्द ही विश्वविद्यालय द्वारा स्वीकृति पत्र भी दिया जाएगा। जिसके बाद इस मशीन से पान की खेती करने वाले किसान अपने उपजाए पान से तेल निकलवा सकते हैं। तेल निकलवाने में कितनी कीमत लगेगी, यह अभी तय नहीं हो सकी है। बता कि पड़ोसी राज्य यूपी के लखनऊ में पान के एक लीटर तेल की कीमत लगभग 50,000 रुपये है। एक किलोग्राम पान में लगभग 10 ML तेल निकलता है।

किसानों को अपने तेल की मार्केटिंग खुद ही करनी पड़ेगी। हलांकि इसमें बिहार कृषि विश्वविद्यालय भी किसानों को सहयोग करेगा। मालूम हो कि बिहार राज्य में पांच हजार हेक्टेयर जमीन पर पान की खेती होती है।

You may have missed

You cannot copy content of this page