बिहार विधानसभा में सदन की मर्यादा हुई तार तार , आपस में मार पीट और गालीगलौज पर उतारू हुए सत्ता पक्ष और विपक्ष के लोग

Bihar Vidhansabha

बिहार विधानसभा में सदन की मर्यादा उस समय तार तार हो गई, जब सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायक आपस मे भीड़ गए। सदन के अंदर विधायकों के इस व्यवहार से पूरे बिहार को आज शर्मिंदगी उठानी पड़ी है। दरअसल मुज्जफरपुर शराब कांड में आज विपक्ष सुबह से ही सरकार पे हमलावर था। इसी मुद्दे को लेकर बाद में सत्ता पक्ष और विपक्ष में गाली गलौज और मारपीट तक कि नौबत आ गई।

क्या है पूरा मामला- बिहार विधानसभा में आज उस समय अफरा-तफरी मच गई जब सत्ता पक्ष और विपक्ष के लोग आपस में भीड़ गए। दरअसल मुजफ्फरपुर शराब कांड के मुद्दे को लेकर के आज पूरा विपक्ष सुबह से ही तेवर दिखा रहा था। जिसके बाद दोपहर होते-होते तेजस्वी यादव के नेतृत्व में विपक्ष ने सदन से बाहर जाकर राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा था। इसके बाद जब तेजस्वी यादव सदन में वापस आए तो उन्होंने फिर से मंत्री रामसूरत राय के इस्तीफे की मांग को लेकर के हंगामा चालू कर दिया। इसके बाद दोनों पक्ष के नेता आपस में भीड़ गए।

तेजस्वी के बड़े भाई तेजप्रताप ने जब सत्ता पक्ष के कुछ विधायकों की तरफ उंगली दिखाते हुए कुछ बातें कहीं तो सत्ता पक्ष भी पूरी तरह से विपक्ष पे हमलावर हो गया। इसके बाद दोनों पक्षों का गुस्सा इतना बढ़ गया की वो सदन की मर्यादा भूल गए और आपस में ही हाथापाई पर उतारू हो गए।

विधानसभा अध्यक्ष ने दी चेतावनी- सदन में दोनों दलों के नेताओं के इस व्यवहार को देखते हुए सभापति विजय कुमार सिन्हा ने विधानसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी। विधानसभा अध्यक्ष ने सबको चेतावनी देते हुए कहा कि सदन में ऐसा व्यवहार नहीं होना चाहिए। सदन की कार्यवाही स्थ

You cannot copy content of this page