आज देर शाम आएगी वीर शहीद लेफ्टिनेंट ऋषि रंजन का दिवंगत शरीर

Rishi Begusarai Indian Army

न्यूज डेस्क: शनिवार को जम्मू कश्मीर में हुए एक विस्फोट में बेगूसराय की माटी के वीर सपूत लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार देश की सेवा में अपने प्राण न्यौछावर कर दिए है। जिले में जब से यह खबर फैली तो शहीद के परिजन व उसके दोस्तों का जमावड़ा उसके घर पर लग गया। मिली जानकारी के मुताबिक, शहीद लेफ्टिनेंट ऋषि कुमार का पार्थिव शरीर आज यानी रविवार को देर शाम तक बेगूसराय आने की संभावना है।

बताते चलें कि ऋषि अपने पिता के इकलौते चिराग थे, एक साल पहले ही सेना को जॉइन किए थे, ऋषि के पिता राजीव रंजन रोते बिलखते कहते हैं की ” मुझे कर्नल का फोन आया था, तकरीबन 7 बजे सूचना मिली कि वह शहीद हो गया है, चार दिन पहले ही मां से बात हुई थी, वह अपनी बहन की शादी में आनेवाला था, 29 नवंबर को छोटी बहन की शादी थी।

घटना के संबंध में बताया जा रहा है, ऋषि शनिवार की शाम अपने टीम के साथ बॉर्डर इलाके सुंदरवन सेक्टर के रजौरी नौशेरा में गश्त कर रहे थे। इसी दौरान शाम करीब छह बजे विस्फोट में ऋषि समेत दो अधिकारियों की मौत हो गई। इस दौरान कई जवान गंभीर रूप से घायल भी हो गए। सूचना के अनुसार सेना की टीम घटना के कारणों की जांच कर रही है। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि आईईडी विस्फोट था या माइंस विस्फोट।

वही इस घटना के संबंध में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी शहीद के स्‍वजनों से बात कर उन्‍हें ढाढ़स बंधाया। केंद्रीय मंत्री अभी बेगूसराय में ही हैं। उन्होंने कहा कि की यह पूरे परिवार व क्षेत्र के लिए बहुत पीड़ा दायक है, उनकी बहादुरी को सलाम। ईश्वर परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति दे।

You cannot copy content of this page