पटना मेट्रो का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी, एलिवेटेड रूट के बाद Under Ground रूटों का जल्द शुरू होगा काम, जानिए पूरा रूट

Patna Metro

डेस्क : बिहार की राजधानी पटना विकास के मामले में अब किसी से पीछे नहीं रहेगा। अब इसका भी नाम मेट्रो सिटी में गिनती किया जाएगा। जी हां पटना मेट्रो का निर्माण कार्य युद्व स्तर पर चल रहा है। वहीं पिछले दिनों जमीन अधिग्रहण के लिए मंजूरी दे दी गई, जिससे विदेशी लोन आराम से बनाया जा सकेगा। पटना मेट्रो के एलिवेटेड रूट बनना शुरू हो गया है। मालूम हो कि मेट्रो में दो कॉरिडोर बनाए जाएंगे। बिजली कंपनी के द्वारा एनओसी प्राप्त होने बाद राजेंद्र नगर से होते हुए बैरिया आईएसबीटी तक तारों को भूमिगत करने का कार्य आरम्भ हो गया है।

बतादें कि पटना जंक्शन से राजेंद्र नगर तक सात मेट्रो स्टेशन बनाये जाना है भूमिगत होंगे इसके बाद मेट्रो एलिवेटेड रूट पर आ जाएगा। इसको लेकर भी पिलर से संबंधित निर्माण कार्य शुरू हो गया है। कंकड़बाग के मलाही पकड़ी से पाटलिपुत्र आईएसबीटी के बीच 6.6 किमी लंबे रूट में मेट्रो शुरू की जाएगी। इस रूट में कुल पांच मेट्रो स्टेशन बनाये जाएंगे। साथ ही दानापुर से पाटलिपुत्र स्टेशन तक वाला रोड एलिवेटेड रहेगा। इसमें बिजली कंपनी से एनओसी प्राप्त करने उपरांत तारों को हटाने की प्रोसेस शीघ्र शुरू की जाएगी। इसके अलावा जीरोमाइल, पटना-गया हाईवे के ऊपर से निकलने वाले एलिवेटेड मेट्रो ट्रैक के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से एनओसी प्राप्त कर लिया गया है।

मालूम हो कि पटना मेट्रो के अभी केवल एलिवेटेड रूटों पर ही कार्य हुआ है। बहुत जल्द भूमिगत रूट और मेट्रो डिपो का निर्माण कार्य शुरू होगा। बीते दिनों आईएसबीटी डिपो हेतु भूमि अधिग्रहण के बाद मेट्रो ने लोन के लिए न्यूनतम मानकों को पूरा किया। लोन प्राप्त होने के बाद भूमिगत स्टेशनों को बनाया जाएगा।बतादें कि मेट्रो के दोनों कॉरिडोर में 13 एलिवेटेड और 13 भूमिगत यानी कुल 26 स्टेशन बनेंगे।

You may have missed

You cannot copy content of this page