बिहार की बेटी रजिया सुल्‍तान ने रचा इतिहास, BPSC परीक्षा पास कर DSP बनने वाली राज्य की पहली मुस्लिम लड़की – जानिए इनकी कहानी

Rajyia Sultan BPSC

डेस्क : बिहार लोक सेवा आयोग ने 4 साल के लम्बे अंतराल के बाद 64वें संयुक्त परीक्षा का रिज़ल्ट घोषित किया है। इस बार बिहार में 40 सहायक अभियंता ने BPSC परीक्षा को पास किया है, इस परीक्षा को पास करके सभी अभियंता अब DSP बनाए गए हैं। यब सभी लोग अब खाकी वर्दी में नजर आएंगे। बता दें की इन 40 अभियंताओं में से 4 मुस्लिम अभियंता है, जिन्होंने इस परीक्षा में सफलता पाई है। साथ ही इन 4 में से एक रजिया सुलतान है जो मुस्लिम समाज से आती हैं, इनकी उम्र 27 वर्ष है।

रज़िया को BPSC की परीक्षा में बहुत बेहतरीन अंक मिलें हैं। बढ़िया नंबर और अच्छी परफॉरमेंस के चलते उनको DSP का पद मिला है। बता दें की वह बिहार के बिजली विभाग में सहायक अभियंता के पद पर काम कर रही थी। अब वह DSP बन बिहार का लॉ एंड आर्डर सम्हालती नजर आएंगी। रज़िया मूल रूप से गोपालगंज की रहने वाली हैं। रज़िया के पिता असलम अंसारी बोकारो स्टील प्लांट में काम कर चुकें हैं।

रज़िया के पिता का देहांत 2016 में हुआ था। रज़िया अपने पूरे परिवार के साथ बोकारो में रहती हैं। रज़िया के 7 भाई बहन है जिसमें वह सबसे छोटी हैं। उनकी 5 बड़ी बहनें हैं और सब शादी शुदा हैं। उनका एक भाई है जो MBA कर चुका है, वह उत्तर प्रदेश में स्थित एक प्राइवेट कंपनी में काम करता है। रज़िया बताती हैं की उनको बचपन से ही लोक सेवाओं में जाने का शौक था। DSP के पद पर जाना किसी सपने से कम बात नहीं है। वह 2017 से इस परीक्षा की तैयारी कर रही थी। रज़िया ने अपनी पढाई बोकारो से पूरी की है, अब उनके DSP बनने पर पूरा परिवार खुश है।

You cannot copy content of this page