करोड़ों की लागत से बना पुल उद्घाटन से पहले नदी में बहा

Bridge

डेस्क : बिहार में चुनाव से पहले पुल और पुलिया ने बहने की कसम ही खा ली है ,पहले सत्तर घाट पुल का अप्रोच पथ बहा था और अब एक नया मामला सामने आया है। इस सब के बाद भी अब चुनावी साल में पहले केंद्र और राज्य सरकार द्वारा उद्घाटन-शिलान्यास का कार्यक्रम अनवरत चल रहा है। खबर बिहार के किशनगंज जिले से है, जहां एक निर्माणाधीन पुल बह गया है। यह मामला किशनगंज के दिघलबैंक प्रखंड के पथरघट्टी पंचायत का है।

अभी तक मिली जानकारी के अनुसार 1 करोड़ 42 लाख की लागत से बन रहा गोवाबाड़ी पुल बह गया है। जिसके बाद से इलाके के लोग फिलहाल बाढ़ की विभीषिका झेल रहे हैं। जो सूचना मिल रही है उसके अनुसार पथरघट्टी के ग्वालटोली के पास कनकई नदी का बहाव तेज हो गया, जिसके कारण कच्ची सड़क तेजी से कटती गई। बताया जाता है कि अब पुल के एक हिस्से के धंस जाने से उधर का पूरा इलाका टापू की शक्ल ले चुका है। इस पुल के टूटने के बाद स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुल निर्माण में अनियमितता बरती गई है। इसके साथ ही उनका कहना है कि संवेदक और अभियंता ने नियमों को ताक पर रख कर पुल निर्माण कार्य किया है। ग्रामीणों की मांग है कि इस मामले में जांच करके दोषियों पर कार्रवाई की जाए।