BJP सांसद के घर पर दर्जनों एम्बुलेंस खड़ी देख पप्पू यादव ने पुछा सवाल तो जवाब मिला ड्राइवर ले आओ और ले जाओ

Rajiv Pratap Rudy

डेस्क : देश के कई राज्यों में इस वक्त हेल्थ ट्रांसपोर्टेशन फैसिलिटी की जरूरत है, जिसको देखते हुए अन्य देशों ने भारत को ट्रांसपोर्ट करने के लिए ट्रक भेजे हैं। इन ट्रकों की मदद से भारत के राज्यों में ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है। ऐसे में बिहार भी कोरोना ग्रस्त हो चुका है, बिहार में दिन-प्रतिदिन कोरोना से मौत के आंकड़े बढ़ता जा रहे है।

इस बात पर जाप पार्टी के नेता पप्पू यादव ने चिंता व्यक्त की है। उन्होंने राजीव प्रताप रूडी जो कि सारण से संसद सदस्य हैं, उन पर अनेकों सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने पत्र के जरिए जिलाधिकारी को लिखा है कि एमपीएलएडी की गाड़ी आखिर क्यों ड्राइवरों के अभाव के चलते खड़ी है। इनको इस्तेमाल में क्यों नहीं लिया जा रहा है? उन्होंने बताया कि मरीजों की सुरक्षा के लिए एंबुलेंस एक अहम भूमिका अदा करती है। वर्तमान में कॉमेडी की स्थिति बेहद ही गंभीर हो गई है, जिसके चलते एंबुलेंस की जरूरत बढ़ रही है।

बता दें कि पप्पू यादव अचानक ही छपरा में निरीक्षण करने पहुंच गए थे और उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव प्रताप रूडी के कार्यालय जो कि अमनौर में स्थित है वहां पर दर्जनों गाड़ियां खाली खड़ी देखी। खाली एम्बुलेंस गाड़ियां खड़ी देख उन्होंने सवाल उठाया कि इतने गंभीर माहौल में यह गाड़ियां इस तरह क्यों रखी हुई है?

इस बात को पप्पू यादव ने अपने ट्विटर हैंडल पर भी शेयर किया और ट्विटर पर भी सवाल पूछा कि आखिर दर्जनों एंबुलेंस बेवजह किस लिए खड़ी है? इन को छुपाकर क्यों रखा गया है? कृपया करके भारतीय जनता पार्टी के नेता जवाब दें। उन्होंने सारण के जिलाधिकारी को भी पत्र लिख कर जवाब मांगा है। इस पर राजीव प्रताप रूडी ने पप्पू यादव को जवाब देते हुए कहा कि सारण की जनता आपकी राजनीति में नहीं आने वाली है और बता दें कि इन वाहनों को चलाने के लिए ड्राइवर मौजूद नहीं है। ऐसे में अगर आप व्यवस्था कर दें तो यहां खड़ी एंबुलेंस चल पड़ेंगी।

You may have missed

You cannot copy content of this page