8 February 2023

अब बिहार में उद्योग लगाना होगा आसान – PMFME के तहत अगले तीन साल में खर्च होंगे 469 करोड़ रुपये..

Industry in bihar

न्यूज़ डेस्क: बिहार वासियों के लिए अच्छी खबर है छोटे-छोटे उद्योग और खेती से जुड़े कार्य करने में लोगों को सहायता मिलेगी। प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना को उद्योग को बढ़ावा देने के लिए लाया गया है। इस योजना के तहत कारोबार की शुरुआत करने वाले लोगों को वित्तीय अनुदान दी जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार ने अगले 3 साल तक की सोच रख कर रणनीति तैयार कर ली है। इसके लिए कुल 469 करोड़ रुपए की स्वीकृति भी मिल गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पहले यह योजना कृषि विभाग के द्वारा चलाई जा रही थी। जो कि अब उद्योग विभाग इस योजना को चलाएगा। इस चालू वित्त वर्ष में इस योजना के तहत 191 परियोजनाओं के लिए लोन बैंक से लोन की मंजूरी पास कराई जा चुकी है। इसके लिए अलग से 75 रूपये करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है।

बताया जा रहा है कि पिछले वित्त वर्ष में इस योजना के तहत 20 लोग ही लाभ ले सके थे। बता दें कि इस योजना के तहत जीविका स्वयं सहायता समूह के हजारों लोगों को लाभ मिल रहा है। इस कार्य के लिए 6 करोड़ से अधिक राशि दी गई है। इस योजना के तहत कई विभागों को मदद किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के तहत छोटे – छोटे उत्पादकों एक डिस्ट्रिक एक एक उत्पाद योजना के तहत वित्तीय सहायता दी जा रही है। इसके अलावा बढ़ते मार्केटिंग की मांग को देखते हुए उत्पाद के ब्रांडिंग और प्रमोशन पर भी काम किया जा रहा है। इसके लिए भी सरकार की ओर से योजना के तहत वित्तीय सहायता दी जा रही। इस लिस्ट में कई बड़ी परियोजनाएं शामिल है। इसके लिए करोड़ो रुपए खर्च किए जा रहे हैं।