बिहार में 12th में फर्स्ट करने का मिला ईनाम, दो आरोपी युवक को न्यायधीश ने किया बरी

12th Me pass

न्यूज डेस्क : बिहार में न्यायधीश ने मोटरसाइकिल चोरी व मारपीट के आरोपी को दोषमुक्त कर दिया। यह फैसला तब आया जब इंटरमीडिएट के रिजल्ट जारी हुए और आरोपी फर्स्ट डिवीजन से इंटर पास कर गया। इंटरमीडिएट की परीक्षा में फर्स्ट डिवीजन पास करने पर दो किशोर को ऐसा इनाम दिया गया कि उसे जिंदगी भर यह ईनाम याद रहेगा । मामला राज्य के बिहारशरीफ का है। जहां इंटर की परीक्षा में फर्स्ट डिवीजन से पास होने और इंजीनियर बनने की ललक देख मारपीट व बाइक चोरी के आरोप से घिरे दो किशोरों को किशोर न्याय परिषद के प्रधान न्यायाधीश ने उसे बरी कर दिया ।

जिसके बाद उक्त दोनों किशोर के खुशी का कोई भी ठिकाना नहीं रहा । इंटरमीडिएट में फर्स्ट डिवीजन की खुशी पर न्यायधीश के द्वारा आरोप से बरी करने की खुशी से दोनों किशोर को दोहरी खुशी मिली। बताते चलें कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के द्वारा आयोजित साल 2021 की इंटरमीडिएट परीक्षा का परिणाम घोषणा के बाद से प्रदेश भर के छात्र छात्राओं में खुशी है। होली से पहले किशोर के लिए हुए इस फैसले से दोनों किशोरों के साथ साथ उसके परिवार वालों के लिए खुशी के रंग भर दिए । बताते चलें कि उक्त दोनों किशोर में से एक पर मारपीट व दूसरे पर मोटरसाइकिल चोरी का आरोप था । दोनो किशोर के फर्स्ट डिवीजन आने पर उसके मेधा को और उसके आगे बढ़ने की तम्मन्ना को देखते हुए न्यायधीश ने उसे दोषमुक्त करने का फैसला सुना दिया ।

You may have missed

You cannot copy content of this page