बिहार के ग्रामीण क्षेत्रों से लगातार बढ़ रहे मामले को लेकर, सीएम ने दिया ये निर्देश

Nitish Kumar

डेस्क : देश में कोरोना काल की पहली लहर ने अलग-अलग महानगरों को तबाह कर दिया था। और दूसरी लहर में भी तबाही शुरू है। लेकिन, दूसरी लहर ग्रामीण क्षेत्र में कुछ ज्यादा ही दस्तक दे रहा है। चुकी: ग्रामीण इलाकों में गाइडलाइंस का काफी उल्लंघन किया जा रहा है। साथ ही गांव के विभिन्न इलाके के लोग सही ढंग से टेस्टिंग भी नहीं करवा पा रहे हैं। और इलाज के अभाव में अपना दम तोड़ रहे हैं। गंभीर हालात को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को ग्रामीणों इलाकों में टेस्टिंग की रफ़्तार बढ़ाने का निर्देश दिया है।

सबको सकारात्मकता और एकजुटता के साथ काम करना है: सीएम मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना की जांच की संख्या बढ़ाएं और संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जरूरी कदम उठायें। साथ ही होम आइसोलेशन वाले मरीजों की पूरी खबर रखें। होम विजिट करते रहें ताकि मरीजों का उनके घर पर बेहतर ट्रीटमेंट हो सके। कोरोना अस्पतालों में मरीजों और उनके परिजनों की हर सुविधा का ख्याल रखें। कम्युनिटी कीचेन के माध्यम से परिजनों को ससमय भोजन उपलब्ध कराते रहें। आगे कहा कि सबको सकारात्मकता और एकजुटता के साथ काम करना है। चिकित्सक, नर्स और अन्य चिकित्साकर्मी सेंटर पर हमेशा रहें। मरीजों के पास उनका लगातार विजिट हो ताकि प्रॉपर ट्रीटमेंट होने के साथ-साथ उनका मनोबल भी बना रहे। मरीजों की हर सुविधा का ख्याल रखें। सरकार की तरफ से संसाधनों की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। कोविड डेडिकेटेड हॉस्पीटल में आईसीयू (ICU) बेड की संख्या और बढ़ाई जाये।

You cannot copy content of this page