बिहार में पाया गया दुर्लभ पीला कछुआ, देखने के लिए उमड़ी भीड़

डेस्क : बिहार के पश्चिम चंपारण में गोल चौक के करीब शिवपुरी मोहल्ले से वन विभाग ने गुरुवार की शाम को एक दुर्लभ प्रजाति का जानवर खोज निकला। दरअसल यह जानवर एक कछुआ है। यह कछुआ अपने आप में इतना अतरंगी था कि इसको मजबूरन जटाशंकर वन क्षेत्र में छोड़ना पड़ा। वन के निदेशक हेमकांत राय का कहना है कि एलॉन्गेटिंग प्रजाति का एक कछुआ है जो, इलाके में बरामद किया गया है।

यह कछुआ भारत, बांग्लादेश, लाओस और नेपाल में पाया जाता है। इसे भारत के लोग पीला कछुआ कहते हैं आपको बता दें कि यह पीला कछुआ फिलहाल जटाशंकर वन क्षेत्र में सुरक्षित है। इस अनोखे पीले कछुए पर सबसे पहले इलाके के लोगों की नजर पड़ी, जो कि सड़क के किनारे झाड़ी में छुपा हुआ था। उन लोगों ने इसकी सूचना तुरंत बाल्मीकि नगर के रेंजर महेश प्रसाद को दी। इसके बाद रेंजर और उनके वन कर्मी एक साथ मौके पर पहुंचे और कछुए को कब्जे में ले लिया। जैसे ही यह खबर और आसपास लोगों को प्राप्त हुई तो और लोग वहां पर जमा हो गए। वन विभाग द्वारा यह जानकारी साझा की गई है कि पीला कछुआ भारत से विलुप्त होने की कगार पर है।