इधर से कचरा डालिये उधर से पेट्रोल निकलेगा, बिहार में मात्र ₹6 के प्लास्टिक से बनेगा 70 रुपए का पेट्रोल-डीजल, पहला प्लांट शुरू

Petrol Plant Bihar

न्यूज डेस्क: बिहार में अब आधुनिक तरीके से पेट्रोल-डीजल का उत्पादन किया जाएगा। इसकी पहल शुरू हो चुकी है, बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में ओनली 6 रुपये के प्लास्टिक कचरा से 70 रुपये का पेट्रोल-डीजल बनाने की कवायद शुरू हो चुकी है। भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय ने मुजफ्फरपुर के कुढ़नी के खरौना में प्लास्टिक कचरा से पेट्रोल डीजल बनाने वाली इकाई का उद्घाटन किया,

इतना यूनिटी दर से पेट्रोल का उत्पादन हुआ: बताते चलें कि अभी इस फैक्ट्री में प्रतिदिन 200 किलो प्लास्टिक कचरा से 150 लीटर डीजल और 130 लीटर पेट्रोल तैयार होगा, यह यूनिट नगर निगम से 6 रुपये प्रति किलो की दर से प्लास्टिक कचरा की खरीद करेगी। इस यूनिट इकाई के संचालक आशुतोष मंगलम ने कहा कि इस तकनीक का देहरादून स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोलियम में ट्रायल हो चुका है।

इस विधि से तैयार किया जाता है पेट्रोल: बता से की इस तकनीक के तहत पहले कचरा को ब्यूटेन गैस में परिवर्तित किया जाएगा, फिर ब्यूटेन को आइसोऑक्टेन में बदला जाएगा, इसके बाद अलग-अलग प्रेशर तापमान से आइसोऑक्टेन को डीजल और पेट्रोल में परिवर्तित किया जाएगा। फिर, 400 डिग्री सेल्सियस तापमान पर डीजल और 800 डिग्री सेल्सियस तापमान पर पेट्रोल का उत्पादन होगा। इस पूरी प्रक्रिया में 8 घंटे तक का समय लगता है।

You may have missed

You cannot copy content of this page