कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन करते वक्त जमीन पर गिरे पप्पू यादव, सरकार को दे डाली यह चेतावनी

डेस्क : कृषि कानून पर जमकर बवाल हो रहा है और इसका समर्थन पटना के अगम कुआं पहाड़ी मोड़ पर भी देखने को मिला। आपको बता दें कि पप्पू यादव (जाप पार्टी) द्वारा पिछले 6 दिन से यहां पर धरना दिया जा रहा है। केंद्र सरकार के कृषि कानून पर पप्पू यादव संग पार्टी के अन्य नेता आक्रोश दिखाते नजर आ रहे है। आपको बता दें कि पप्पू यादव ( जन अधिकार पार्टी ) के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने चौक पर रोक दिया क्यूंकि वह मार्च करके राजभवन की और चलने लगे थे। इस कृषि कानून को लेकर लगातार किसान विरोध कर रहे हैं। बिहार में भी मांग उठ रही हैं कि किसानों के हक के लिए किसानों को सड़क पर आना होगा।

पिछले कई दिनों से पप्पू यादव अनिश्चितकालीन धरना पर बैठे हुए थे और आज करीब 6 दिन बाद उन्होंने जमकर प्रदर्शन किया। जाप पार्टी के कार्यकर्ता ने राजभवन तक मार्च करने के लिए पहाड़ी स्थित जीरोमाइल से तैयारी शुरू की लेकिन बीच रास्ते में ही उनको पुलिस की बैरिकेडिंग का सामना करना पड़ा। जिसके बाद भीड़ काबू में नहीं आई। साथ ही पुलिस प्रशासन की टीम ने सतर्कता बरतते हुए वाटर कैनन से प्रहार किया और जितने भी लोग इकट्ठा थे, वह तितर-बितर हो गए ऐसे में पुलिस प्रशासन को बल प्रयोग करना पड़ा जिसके बाद हर जगह अफरा-तफरी का माहौल मच गया। इसमें कई पुरुष कार्यकर्ता और महिला कार्यकर्ता भी मौजूद थी। इन सभी को पुलिस प्रशासन ने हिरासत में ले लिया है।

इस धरना प्रदर्शन के जुलूस को 6 दिन हो गए थे लेकिन मंगलवार को यानी कि आज के दिन इसको रोक दिया गया है पप्पू यादव एवं उनके कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पप्पू यादव का कहना है कि वह देश के किसानों के साथ हैं और इसके बाद उन्होंने चेतावनी भी दी कि हम रुकने वाले नहीं है चाहे सरकार जितना भी जोर लगा ले। प्रदर्शन के वक्त वह सड़क पर भी गिर गए। लेकिन फिर भी उन्होंने अपना साहस कम नहीं होने दिया और वह अपनी बात लगातार बोलते रहे। इस विरोध प्रदर्शन के दौरान पटना के एसडीओ एवं एडिशनल डीएसपी, एसपी के साथ अन्य थानों की पुलिस मौके भी मौजूद थी।