नीतीश कुमार को है कुर्सी जाने का डर , इशारों इशारों में कही मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने की बात…

डेस्क : बिहार चुनाव के परिणाम आने के बाद भले ही राज्य में एनडीए की सरकार बन गई है और नीतीश कुमार मुख्यमंत्री बन गए हैं। लेकिन , एनडीए गठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं है इसका इशारा गाहे बगाहे दोनों दल के नेता देते रहते हैं। ताजा मामले में खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इतनी बड़ी बात कह दी है कि राज्य के राजनीति में भूचाल आना तय है।

क्या कहा नीतीश कुमार ने- दरसअल कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नीतीश कुमार ने कर्पूरी ठाकुर के जयंती समोराह में बोलते हुए इशारों इशारों में अप्रत्यक्ष तौर पे कहा कि उन्हें भी कुर्सी से बीच मे ही हटाया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कर्पूरी ठाकुर का उदाहरण देते हुए कहा कि उनके साथ अन्याय क्यों हुआ , उन्हें बीच मे ही कुर्सी से क्यों हटा दिया गया। जबकि वे अतिपिछड़ों के सबसे बड़े हितैषी थे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि नाराज लोगों ने कर्पूरी ठाकुर को 2 साल में ही मुख्यमंत्री पद से हटा दिया। नीतीश ने यही ये बात कही की कभी कभी सबके हित मे काम करने से भी कुछ लोग नाराज हो जाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग सता में आके सिर्फ सुख लेना चाहते हैं , जबकि हमारे लिए सत्ता का मतलब सेवा होता है और हम जबतक सत्ता में हैं लोगों की सेवा करते रहेंगे।