बिहार में प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए नीतीश सरकार देगी 3 लाख रुपए.. जाने क्या है पूरी प्रक्रिया..

bihar petrol

न्यूज डेस्क: बिहार में अब तक प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए राज्य सरकार की ओर से लोगों को कोई भी सहायता राशि नहीं दी जा रही थी। लेकिन, अब इसके लिए सहयोग राशि का प्रावधान किया गया है। जिसका लाभ लोगों को मिलेगा और सभी प्रखंडों में आसानी से केंद्र खुल पायेंगे। बिहार के 534 प्रखंडों में से 387 प्रखंडों में करीब 1000 प्रदूषण केंद्र हैं।

लेकिन बिहार के 147 प्रखंडों में प्रदूषण जांच केंद्र नहीं हैं। बिहार सरकार ने प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए 3 लाख रुपये तक की सहायता दे रहे है। राज्य में अब तक प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए राज्य सरकार की ओर से लोगों को कोई सहायता राशि नहीं दी जाती थी, पर अब इसके लिए राशि का प्रावधान किया गया है।

परिवहन विभाग का प्रस्ताव है कि हर प्रखंड में एक वाहन प्रदूषण जांच केंद्र जरूर खोलना चाहिए। यही कारण है की वाहनों के शोरूम्स और सर्विस सेंटर्स में भी जांच केंद्र खोलने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। प्रदूषण जांच केंद्र की स्थापना के लिए राज्य सरकार ने लाइसेंस बनवाने, रीन्यू कराने और आवेदन के लिए शुल्क घटा दिए गए हैं। अब इसके लिए ऑनलाइन सुविधा भी की गई है।

You cannot copy content of this page