खुशखबरी: बिहार-झारखंड के बीच 200 रूटों पर चलेगी नई बसें , जानें- किस जगह से कितने बसें खुलेगी..

Bihar Jharkhand bus route

न्यूज डेस्क: बिहार में पिछले वर्ष कॉविड के चलते कई रूटों पर बस संचालन बंद हो गया। जिससे यात्रियों को आवागमन करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा था, लेकिन अब परिवहन विभाग द्वारा बसों का इंतजाम कर लिया गया है। बता दे की बिहार से झारखंड के बीच करीब 200 रूटों बसों की संख्या बढ़ाई जाएगी। वही अगले माह 19 नवंबर को विश्वेश्वरैया भवन में राज्य परिवहन प्राधिकार सह परिवहन आयुक्त के कार्यालय में आयोजित बैठक में बसों की परमिट पर अंतिम फैसला किया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो, बिहार-झारखंड के बीच परिवहन समझौता के हिसाब से बसों की संख्या काफी कम है। पटना से रांची के बीच 500 बसों का परमिट कोटा है, जिसमें 465 रिक्तियां हैं। इसी तरह पटना से टाटा के बीच 200 में 157, हजारीबाग के बीच 200 में 157 व देवघर के रस्ते 125 में 121 रिक्तियां हैं। वैसे तो अभ भी इन दोनों राज्यों के बीच चल रही है पर अब इनके रूट को और बढ़ा दिया जाएगा।

बता दे की पटना में ऐसे कई रूट है जहा बसों का परिचालन नहीं हो रहा है जिनमे, पटना बहरागोड़ा, आरा-गिरीडीह, भभुआ-रांची, गया-बोकारो, गया-देवघर, गया-दुमका, औरंगाबाद-गिरीडीह, जहानाबाद-बोकारो, नवादा-टाटा, नवादा-हजारीबाग, हसुआ-रांची, मुंगेर-टाटा, जमुई-टाटा, जमुई-देवघर, बेगूसराय-टाटा, बेगूसराय-बोकारो, बेगूसराय-देवघर, खगडिय़ा-धनबाद, छपरा-रांची, छपरा-टाटा, छपरा-बोकारो, मुजफ्फरपुर-धनबाद, सीवान-हजारीबाग, भागलपुर-रांची, भागलपुर-हजारीबाग, बांका-टाटा, दरभंगा-बोकारो, हजारीबा-किशनगंज
यह सभी रूट शामिल हैं।

You cannot copy content of this page