December 10, 2022

खुशखबरी! बिहार के 900 बालू घाटों में खनन की बंदोबस्ती शुरू, यहां जानिए – कब से मिलेगा सस्ता बालू

balu khanan

डेस्क : बिहार के 35 जिले के 900 बालू घाटों की बंदोबस्ती अक्टूबर माह में पूरी होगी. पटना सहित प्रत्येक जिले ने बंदोबस्ती प्रक्रिया के लिए टेंडर का अलग-अलग कार्यक्रम भी ,जारी किया है. ऐसे में बंदोबस्ती पूरी होने और सभी प्रक्रियाओं को पूरा होने के बाद से बालू खनन सभी बालू घाटों पर नवंबर माह के पहले सप्ताह से शुरू होने की संभावना है. इससे राज्य सरकार का राजस्व बढ़ने की प्रबल संभावना है, हालांकि सरकार के राजस्व का आकलन बंदोबस्ती प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही हो सकेगा.

E-टेंडर के आवेदन मांगे जाने लगे : फिलहाल अभी कटिहार, अररिया और शेखपुरा जिलों में बालू घाटों की बंदोबस्ती नहीं होगी. कुछ सूत्रों के अनुसार खान एवं भूतत्व विभाग के निर्देश पर सभी जिलों ने बंदोबस्ती प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. विज्ञापन के माध्यम से E-टेंडर के आवेदन मांगे जाने लगे हैं. फिलहाल बालू घाटों से खनन जून माह से ही बंद है. अब नए तरीके से बंदोबस्ती होने से सरकार के राजस्व में करीब डेढ़ से 2 गुना तक बढ़ोतरी होने की संभावना है.

बालू की उपलब्धता अब बढ़ जायेगी : इसके साथ ही राज्य के सभी हिस्सों में बालू की उपलब्धता अब बढ़ जायेगी. इसका फायदा आम लोगों को ही होगा, उन्हें उचित दाम पर बालू मिल सकेगी. निर्माण कार्यों में बढ़ोतरी होने के कारण रोजी-रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. सभी बालू घाटों का डिस्ट्रिक सर्वे रिपोर्ट पहले ही उच्चतम न्यायलय के निर्देश पर तैयार कर लिया गया था. उसके आधार पर ही बंदोबस्ती प्रक्रिया हो रही है.

ये भी पढ़ें   बिहार : अब 200 साल पुराने रजिस्ट्री के कागजात मिलेंगे ऑनलाइन, जानें - क्या है पूरी प्रक्रिया..