मैथेमैटिक्स गुरू पहुँचे अयांश के घर, खुद भी किया मदद और लोगो से भी अयांश की जान बचाने की अपील

Rk Srivastava

डेस्क : देश के प्रसिद्ध मैथेमैटिक्स गुरू पहुँचे अयांश के घर, खुद भी किया 20000 रू की मदद और लोगो से भी अयांश की जान बचाने की अपील किया। आरके श्रीवास्तव के पढाये वैसे सभी सफल स्टूडेंट्स जो सरकारी, प्राइवेट कंपनी या अन्य प्रतिष्ठित पदो पर नौकरी कर रहे है वे भी मदद को आगे आ रहे है।

आपको बताते चले की अयांश सिंह जो की मात्र 10 महीना का है वो एक दुर्लभ बिमारी स्पाइनलमस्कुलरएट्रोफी (SMA)Type-1 से जुझ रहा है। इस बिमारी मे शरीर का अंग धीरे धीरे काम करना बंद कर देता है। इस बीमारी से ग्रसित बच्चा दो साल से अधिक जिवित नही रह पाता है। इस बच्चे के साथ कुछ ऐसा ही होने जा रहा है। इस बच्चे का सिर संभाल नही पाता है, उसके हाथ और पैर की शक्ति खत्म हो गयी है, कुछ खाने मे भी परेशानी होने लगी है। यह बच्चा 10 माह का तो हो गया है पर अभी कुछ नही कर पाता है अभी भी नवजात की तरह है। इस जानलेवा बीमारी के कारण अब इसके पास कुछ महीने ही बचे हैं। लेकिन अगर हम सभी ने साथ दिया तो इस बच्चे का जान बचा सकते हैं।

Zolgensma इंजेक्शन ही दुनिया में इस बीमारी का एकमात्र इलाज है और उस इंजेक्शन की कीमत 16 करोड़ रुपिया है। जो दुनिया का सबसे महंगा इंजेक्शन में से एक है। यह इंजेक्शन अमेरिका से मंगना पड़ता है क्योंकि दुनिया में एकमात्र कंपनी ही इस इंजेक्शन को बनाती है। इतना बड़ा रकम इस बच्चे के माता पिता के लिए असम्भव है। यह हमलोगों के मदद और सहयोग से सम्भव हो सकता है और बच्चे की जान बचाई जा सकती है , अब बच्चे की जिंदगी अब हम सभी देश-विदेश की जानता के हाथो में है,

You may have missed

You cannot copy content of this page