मांझी ने टीके के प्रमाणपत्र पर पीएम की तस्वीर पर जताई आपत्ति, कहा- फोटो लगाने का इतना ही शौक है तो…

Jiten Ram Manjhi

डेस्क : कोरोना महामारी के बीच बिहार में जहां वैक्सीन लेने के लिए होड़ मची हुई है। 18 वर्ष से ऊपर के उम्र के लोगों को वैक्सीन का स्लॉट नहीं मिल पा रहा है। वहीं अब इस वैक्सीन के साथ मिलने वाले सर्टिफिकेट को लेकर भी सियासत शुरू हो गई है। आपको बता दे‌ की हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के मुखिया और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कोरोना का टीका लेने के बाद लोगो को दिए जा रहे प्रमाणपत्र पर पीएम मोदी की तस्वीर लगे होने पर सवाल खड़ा किया है।

दरअसल, जितेंद्र मांझी रविवार को कोरोना वैक्‍सीन का दूसरा डोज लिये थे। दूसरा डोज लेने के बाद मांझी ने सर्टिफिकेट पर सवाल खड़े कर दिए। वैक्‍सीनेशन के प्रमाणपत्र पर पीएम की तस्वीर लगे होने पर जीतन राम मांझी ने ट्वीट कर आपत्ति जताई। मांझी ने सवाल खड़े करते हुए कहा कि कोवैक्सीन का दूसरा डोज लेने के बाद मुझे प्रमाणपत्र दिया गया। जिसमें प्रधानमंत्री की तस्वीर लगी है। देश में संवैधानिक संस्थाओं के सर्वेसर्वा राष्ट्रपति हैं। इस नाते उसमें राष्ट्रपति की तस्वीर होनी चाहिए। वैसे, तस्वीर ही लगानी है तो राष्ट्रपति के अलावा पीएम और स्थानीय मुख्यमंत्री की भी तस्वीर हो।

RJD का मिला समर्थन: जीतन राम मांझी द्वारा पीएम मोदी की तस्वीर पर उठाए गए सवाल पर अब आरजेडी ने भी इसका समर्थन किया है। RJD नेता मृत्युंजय तिवारी ने समर्थन करते हुए कहा कि जीतन राम मांझी पहले मुख्यमंत्री रह चुके हैं और वरिष्ठ नेता हैं। उन्होंने जो बात उठाई है

You cannot copy content of this page