बेगूसराय में आम तोड़ रहे युवक की ठनका के चपेट में आने से गयी जान, बिहार में वज्रपात से 11 लोगों की गई जान

Weather alert bihar

न्यूज डेस्क : बेगूसराय में एक व्यक्ति की मौत आम के पेड़ पर आम तोड़ने वक्त आसमानी बिजली की चपेट में आने से हो गयी। मंगलवार की शाम हुई तेज बारिश और व्रजपात में जिले के नावकोठी थाना क्षेत्र निवासी एक महादलित की जान चली गयी। तेज बारिश के दौरान ठनका के गिरने से एक व्यक्ति की मौत एवं एक गंभीर रूप से घायल हो गया।मृतक की पहचान पहसारा पूर्वी पंचायत के पीरनगर मुसहरी लड्डू लाल सदा का 26 वर्षीय पुत्र राजेन्द्र सदा के रुप में हुई।

वहीं घायल व्यक्ति पीरनगर का दिनेश सदा है।मंगलवार को राजेन्द्र सदा मजदूरी करने धीरज सिंह के आम के बगीचा से आम तोड़ने के लिए गया था।खेसरैला डेरा के निकट आम के पेड़ पर अचानक राजेन्द्र सदा के शरीर पर ठनका गिरा उसके चपेट में आने से आम के पेड़ से गिर तत्क्षण उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही आम बगीचे का मालिक भाग गया। घास काट रहे ग्रामीण महिलाओं ने इसकी सूचना घर वालों को मोबाइल से दी।घटना की सूचना मिलते ही सैंकड़ों की संख्या में आक्रोशित ग्रामीणों ने घटनास्थल पर पहुंच कर मृतक के शव को उठाकर पीरनगर चौक पर रखकर बखरी मंझौल पथ को जाम कर दिया।जाम की सूचना मिलते ही नावकोठी पुलिस पदाधिकारी चुनचुन राय,प्रभारी सीआई शंभू पासवान दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर घटना की जानकारी इकट्ठा की।

मृतक अपने पीछे माता पिता को छोड़ कर चला गया।घर पर रहकर मजदूरी करके पूरे परिवार का भरण पोषण करता था।पत्नी संगीता देवी पति के शव से लिपट कर रोते हुए बेसूध होती रही। तब जाकर मंगलवार की देर रात बखरी विधायक सूर्यकांत पासवान ने जाकर लोगों को समझा बुझा कर रोड जाम खुलवाया। बताते चलें कि मानसून की प्रभावी बारिश और व्रजपात के बीच अबतक बिहार में कुल 11 लोगों की जान चली गयी । जो व्रजपात कि चपेट का आने से मौत के गाल में समय गए ।

You cannot copy content of this page