May 22, 2022

मिथिला से कोसी होगा सीधा जुड़ाव, इन दो बड़ी रेल परियोजना काम रफ्तार में, जानें- कब से दौड़ेगी ट्रेन..

Rail

डेस्क: बिहार सरकार के नेतृत्व में लगातार नए-नए मेगा प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है, खासकर अलग-अलग क्षेत्रों को एक साथ जोड़ने के लिए काम प्रगतिशील पड़े हैं, कहीं एक्सप्रेस-वे का निर्माण हो रहा है, तो कहीं शानदार नेशनल हाईवे का, इसी बीच कोशी और मिथिला को जोड़ने के लिए दो बड़ी रेल रेल परियोजनाओं पर तेजी से काम जारी है, उम्मीद की जा रही है कि साल के अंत तक ट्रेन परिचालन शुरू हो जाएगा,

जानकारी के मुताबिक, सकरी-निर्मली व झंझारपुर-लौकहा बाजार रेलखंड पर तमुरिया-निर्मली के बीच 22 किमी (KM) और सहरसा-फारबिसगंज रेलखंड पर ललितग्राम-फारबिसगंज के बीच 29 किमी (KM) बड़ी रेल लाइन बिछाने का काम इस साल पूरा होने की संभावना है, इन दो परियोजनाओं में लगभग 1471 करोड़ रुपये खर्च होंगे, फारबिसगंज तक रेल संपर्क होने के बाद नेपाल के जोगबनी, और कटिहार व पूर्वोत्तर राज्य गुवाहाटी से मिथिला का सीधा रेल संपर्क होगा, झंझारपुर, निर्मली रूट की ट्रेन कोसी रेल महासेतु, सरायगढ़ व राघोपुर होकर फारबिसगंज पहुंच जायेगी।

जानकारी के लिए आपको बता दें की दरभंगा के सकरी–निर्मली तथा झंझारपुर-लौकहा बाजार लगभग 94 किमी व सहरसा-फारबिसगंज 111 किमी में कुल 112 किमी काम पूरा हो चुका है, सकरी-मंडन मिश्र हॉल्ट (11 किमी), मंडन मिश्र हॉल्ट-झंझारपुर (09 किमी), झंझारपुर-तमुरिया (09 किमी) का कार्य पूरा हो चुका है, वही 111 किमी लंबे सहरसा-फारबिसगंज परियोजना के अंतर्गत सहरसा-गढ़बरूआरी (16 किमी), गढ़बरूआरी-सुपौल (11 किमी), सुपौल-सरायगढ़ (25 किमी), सरायगढ़-राघोपुर (11 किमी) व राघोपुर-ललितग्राम (20 किमी) के बीच काम पूरा कर लिया गया है. इस परियोजना के बचे हुये भाग में तेजी से काम हो रहा है।