अगर बिहार में पंचायत चुनाव लड़ना है तो तुरंत लगवा लें कोरोना का टीका, नहीं तो पछताना पड़ेगा- ‌ जानिए नया नियम

Panchayat Chunao Bihar

न्यूज डेस्क : बिहार में त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत एवं ग्राम कचहरी का चुनाव लड़ने के लिए अब सभी जनप्रतिनिधियों को कोरोना का टीकाकरण सुनिश्चित करना होगा। बता दे की पंचायत चुनाव तक अगर कोई भी जनप्रतिनिधि कोरोना का टीका नहीं लेगे। तो उसके पंचायत चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी जाएगी। उक्त बात की जानकारी पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आयोग से आग्रह किया गया है कि कोरोना टीका लगाने वाले को ही चुनाव लड़ने की इजाजत दें। इस संबंध में आयोग आदेश भी जारी किया है।

टीका खुद भी लगाएं और अपने परिवार वाले को भी प्रेरित करें: आगे उन्होंने बताया हमारी अपील है कि अगर कोई भी जनप्रतिनिधि आगामी पंचायत चुनाव लड़ना चाहते हैं तो वो जल्द-से-जल्द स्वयं तो टीका लें ले। साथ ही अपने परिवार के सदस्यों को भी टीका अवश्य लगवाएं। इससे राज्य में कोरोना का टीका लगाने को लेकर एक अच्छा संदेश भी जाएगा। लोग इसके प्रति जागरूक होंगे। बता दें कि बिहार में ढाई लाख से अधिक पदों के लिए पंचायत चुनाव कराए जाते हैं। इनमें 8386 पद मुखिया के होते है। तथा इतने ही पद सरपंच के भी होते हैं। और सबसे अधिक एक लाख 14 हजार, 600 पद वार्ड सदस्य के होते हैं। इतने ही पद पंच के भी होते हैं। पंचायत समिति सदस्यों की संख्या 11491 होती है। इस तरह लाखों की संख्या में लोग पंचायत का चुनाव लड़ते हैं। गौरतलब हो कि कोरोना संक्रमण को लेकर ही अभी चुनाव कार्यक्रम को स्थगित किया गया है।

You cannot copy content of this page