बिहार के इन जिलों में 24-48 घंटे में बारिश और बिजली गिरने की चेतावनी, जानें- अगले पांच दिन कैसा रहेगा देश का मौसम

Weather Update

न्यूज डेस्क : बिहार में मानसून के बीच का मौसम काफी तेजी से बदल रहा है । पिछले कई दिनों से विभिन्न जिलों में कभी अचानक काले घने बादल छा जाते हैं तो कभी उमस भरी गर्मी उत्पन्न हो जाती है। वही , पटना मौसम विभाग का मानना है कि सूबे में पिछले 24 घंटे में बारिश का सिस्टम पहले की अपेक्षा काफी कमजोर हुआ है।

इसी को लेकर मौसम विभाग ने रविवार से अगले 24 से 48 घंटे के दौरान बिहार के विभिन्न जिलों में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है। हालाकि, बारिश की स्थिति सामान्य रहेगी। बता दें कि बारिश को लेकर उत्तर बिहार के बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों की परेशानी बढ़ गई है । बिहार के पूर्वी और पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, सिवान, सारण आदि जिलों में जून और जुलाई के दौरान तकरीबन हर रोज ही बारिश हो रही है । इसके अलावा बेगूसराय, बक्‍सर, गया, पटना, जहानाबाद में भी पर्याप्‍त बारिश हो रही है।

पिछले 24 घंटे के दौरान यहां ज्यादा बारिश हुई पटना मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक सूबे में पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा दरभंगा और बड़हारा में 50 मिमी बारिश हुई। राज्य के अन्य हिस्सों में भी मेघ गर्जन के साथ आंशिक बारिश हुई। लेकिन कहीं से भारी बारिश की सूचना नहीं है। बता दे की जून तक सूबे में बारिश सामान्य से काफी ज्यादा हुई। लेकिन जुलाई में अबतक अपेक्षाकृत कम बारिश हुई। विशेषकर दक्षिण बिहार में इसकी कमी ज्यादा देखी गई।

ये भी पढ़ें   रातों रात बदली बिहार की सियासत - आज 8वीं बार नीतीश कुमार लेंगे CM की शपथ, पढ़िए..NDA छोड़ने का कारण

मानसून ट्रफ रेखा से गुजर रही है आईएमडी के अनुसार मानसून की ट्रफ रेखा के हिमालय की तराई की ओर शिफ्ट होने से ऐसा हुआ। जून के अंत तक पूरे बिहार में 111 प्रतिशत अधिक बारिश हुई थी। जो घटकर 69 प्रतिशत आ गई है। जून से लेकर 10 जुलाई तक राज्य में 278 मिमी बारिश होनी चाहिए थी लेकिन 469 मिमी बारिश दर्ज की गई है। बता दे की अगले पांच दिन बारिश की गतिविधियों में आंशिक कमी आने के बाद यह आंकड़ा और नीचे आएगा। फिलहाल, एक ट्रफ रेखा उत्तर पश्चिमी राजस्थान से मध्यप्रदेश, छतीसगढ़, ओडिशा होते हुए पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी तक फैला है।