राज्य में बढ़ रही कोरोना की रफ्तार : जानइए सीएम नीतीश ने लॉकडाउन लगाने को लेकर क्या कहा

Nitish Kumar

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या एक बार फिर से रफ्तार पकड़ने लगी है। राज्य में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 58 नए मरीज मिले हैं। कोरोना की बढ़ती रफ्तार देख कर के लोगों के मन में अंदेशा पैदा हो रहा है कि क्या राज्य में फिर से एक बार लॉकडाउन लगाया जाएगा। हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि राज्य में अभी हालत काबू में है और मुख्यमंत्री की बातों से लग रहा है कि राज्य में अभी लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा।

हालात काबू में- मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कोरोना के मामले बढ़ने पर चिंता जाहिर की और उन्होंने कहा कि राज्य के अभी हालात उतने खराब नहीं हैं। आगे भी हालत ना बिगड़े इसलिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूल कॉलेज भी अभी खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना टेस्टिंग की संख्या को फिर से बढ़ाया जाएगा औऱ प्रतिदिन 70 हजार जांच किया जाएगा। उन्होंने कहा कि होली के त्योहार पर बाहर से घर आ रहे लोगों की मॉनिटरिंग की जा रही है।

बढ़ रहे हैं मामले- राज्य में कोरोना के मामले एक बार फिर से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में भागलपुर से 17 ,पटना से 14 सहित पूरे राज्य से कोरोना के 58 नए मरीज मिले हैं। राज्य में कोरोना के अभी 363 एक्टिव मरीज हैं। हालांकि हाल फिलहाल में बाहर से आ रहे लोगों की निगरानी की जा रही है और टेस्टिंग की संख्या बढ़ाए जाने से कोरोना के मामलों की संख्या अभी और बढ़ सकती है।

बाकी जगहों से स्थिति बेहतर- राज्य में कोरोना मामलों की स्थिति अभी देशभर के अन्य राज्यों से काफी बेहतर है। पूरे देश में महाराष्ट्र की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है, वहां मामलों की संख्या प्रतिदिन 20 हजार को भी पार कर गई है। राज्य में कोरोना मामलों की संख्या हालांकि अभी दूसरे राज्यों से कम है, लेकिन सख्ती बढ़ाकर और एहितयात बरतकर ही राज्य कोरोना की दूसरी लहर से बच सकता है।

You may have missed

You cannot copy content of this page