बिहार के गया व समस्‍तीपुर में बनेंगे वाटर पार्क और बड़े-बड़े होटल, जानिए आपके शहर को क्‍या मिली सौगात

Bihar Development

न्यूज डेस्क : बिहार में इन दिनों सरकार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन के नेतृत्व में लगातार अलग-अलग क्षेत्रों में इथेनाल व खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में निवेश की खूब चर्चा है। इसी बीच खबर आ रही है कि अब प्रदेश में मनोरंजन के क्षेत्र में वाटर पार्क के निवेश आने लगे हैैं। बता दे की हाल के महीनों में राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड (एसआइपीबी) की बैठक में इस तरह के प्रस्तावों को स्टेज-1 क्लियरेंस दिया गया है। अब वह दिन दूर नहीं जब अलग-अलग जिले में भी वाटर बनकर के तैयार हो जाएंगे। एसआइपीबी ने स्टेज-1 की क्लियरेंस भी प्रदान कर दी है।

फिलहाल, इन जिलों बनेंगे वाटर पार्क आपको बता दे की गया जिले के बोधगया के नीमा में 10.29 करोड़ रुपये की लागत से एक नया वाटर पार्क बनाए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। साथ ही इसमें रेन कोर्ट, फूड कोर्ट व डांस फ्लोर आदि का भी प्रविधान किया गया है। और समस्तीपुर में भी छह करोड़ रुपये की लागत से एक वाटर पार्क तैयार किए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। यह मुसरी घरारी के लिए है। इसे भी एसआइपीबी ने स्टेज-1 क्लियरेंस प्रदान कर दिया है।

इन जिलों में होटल का प्रस्ताव भी आ रहे हैं: बता दे की बिहार में अब बड़े-बड़े कंपनियां अलग-अलग क्षेत्रों में निवेश कर रहे हैं। अब छोटे छोटे शहरों में भी बड़े-बड़े होटल बनाया जाएंगे। इसके लिए कंपनी निवेश करना शुरू कर दिए हैं। बता दे की सहरसा के तिवारी टोला चौक में 2.09 करोड़ रुपये निवेश से मेसर्स होटल हालिडे द्वारा होटल शुरू किए जाने के एक प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई। बोधगया के नेवतपुर में मरासा हास्पिटैलिटी प्राइवेट लिमिटेड 72.02 करोड़ का निवेश एक होटल निर्माण में करेगा। इसे भी स्टेज-1 क्लियरेंस मिल चुका है। पश्चिम चंपारण के कटहरी में 12.38 करोड़ रुपये की लागत से एक होटल बनाए जाने के प्रस्ताव को भी स्टेज-1 क्लियरेंस दिया गया है। इसे मेसर्स रेयान कांटिनेंटल समूह बनाएगा। पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी में 7.44 करोड़ रुपये की लागत से एक होटल निर्माण के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई है। इसमें सात सुइट और 23 डीलक्स रूम तथा दो बैंक्वेट हाल होंगे।

You cannot copy content of this page