गया: इस वर्ष भी नहीं लगेगा पितृपक्ष मेला, पिंडदान करने की रहेगी छूट, जाने पूरी गाइडलाइन

Gaya

डेस्क : कोरोना के कारण इस वर्ष भी गया मे प्रसिद्ध पितृपक्ष मेले का आयोजन नहीं होगा। हालांकि जो श्रद्धालु पिंड दान करने आ आएंगे उन्हें कोरोना संक्रमण की जांच करवानी पड़ेगी। इस से संबंधित स्वास्थ्य डीपीएम नीलेश कुमार व सिविल सर्जन डॉ. केके राय को निर्देश दे दिया गया है। संक्रमण की जांच विष्णुपद मंदिर कैंपस में जांच कैंप तथा मोबाइल वैन के जरिये की जानी है। यह निर्देश जिला प्रशासन की तरफ से मंगलवार कोजारी किया गया है।

दरअसल, बिहार के गया में अश्विन माह की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से पितृपक्ष आरंभ होता है। इस साल पितृपक्ष 20 सितंबर से आरंभ होगा। कोरोना के तीसरी लहर हो ध्यान में रखते हुए इस बार भी मेले नहीं लगेगा, परंतु गया पहुंचने वाले श्रद्धलु पिंड दान,श्राद्धकर्म व कर्मकांड कर पाएंगे। मालूम हो कि कोरोना की वजह से ही गत वर्ष भी इस मेले का आयोजन नहीं हुआ था। सरकार के आदेश के पश्चात धार्मिक स्थलों को खोल दिया गया है, परंतु गया में पितृपक्ष में लगने वाले मेले को पर पूर्ण रूप से रोक लग गई है।

क्या है गाइडलाइन

  • पिंड दान करने हेतु आए लोगों को करानी होगी कोरोना जांच।
  • जो कोरोना रोधक वैक्सीन नहीं लिया है, उन्हें उन्हें लगाई जाएगी वैक्सीन।
  • आपदा एक्ट के उल्लंघन पर दर्ज की जाएगी प्राथमिकी।
  • कोरोना संक्रमण पॉजिटिव मिलने पर पर 10 दिन तक आइसोलेशन।
  • इस वर्ष श्रद्धालुओं से निम्न संख्या में आने की अपील।

उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने बताया कि कोरोनाको देखते हुए पितृपक्ष मेले का आयोजन नहीं किया जाएगा। हालांकि, गया आने वाले श्रद्धालुओं की सेवा अतिथि देवो भवः के तर्ज पर की जाएगी। लोगों को किसी भी तरह कीसमस्या न हो इस बात का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

You may have missed

You cannot copy content of this page