बिहार में बाढ़ का संकट बरकरार, बूढ़ी गंडक लाल निशान से ऊपर, प्रमुख नदियों के जलस्तर में गिरावट जारी

Budhi Gandak

न्यूज़ डेस्क : बिहार में बारिश के कारण नदियों का जलस्तर लगातार तेजी से बढ़ रहा है। खासकर, मौजूदा समय में उत्तरी बिहार व कोसी इलाकों के विभिन्न जिलों में बाढ़ की स्थिति भयानक हो चुकी है। हालांकि, अन्य जिलों पर भी बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। बता दे पटना जिले में गंगा, सोन नदी का जलस्तर पिछले दिनों से काफी कमी आई है। वही पटना के पुनपुन के जल स्तर में वृद्धि जारी है। इससे बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है।

वही बेगूसराय जिले में भी बूढ़ी गंडक व बलान नदी का जलस्तर भी धीरे-धीरे घटता जा रहा है। जिससे इलाके के लोगों ने राहत की सांस ली है। वही भागलपुर जिले के बिहपुर और खरीक में कोसी उग्र पर है। इसकी तेज बहाब से कहारपुर के दक्षिणी क्षेत्र को अपनी चपेट में ले सकती हैं। बरहाल, हर साल कोसी का कहर इलाके में बरपता रहा है लिहाजा, इस बार भी भय से कई ग्रामीण अपने-अपने घरों को खाली करने लगे हैं। सोमवार को आपदा नियंत्रण अभियंता से मिली जानकारी के अनुसार गंगा नदी का जल स्तर दीघा घाट में 47.30 मीटर था। पुनपुन नदी पुनपुन रेल पुल के पास 50.29 मीटर के जल स्तर के साथ बह रही थी।

ये भी पढ़ें   रातों रात बदली बिहार की सियासत - आज 8वीं बार नीतीश कुमार लेंगे CM की शपथ, पढ़िए..NDA छोड़ने का कारण