बिहार उप चुनाव में पप्पू यादव और उनकी पत्नी रंजीत रंजन में भीषण टक्कर, कांग्रेस ने किया पर्यवेक्षकों को नियुक्त

Pappu yadav bypoll election bihar

डेस्क : बिहार में दो सीटों के लिए हो रहे उप चुनाव हेतु कांग्रेस आलाकमान ने दो पर्यवेक्षकों की नियुक्ति कर दी है। कुशेश्वरस्थान स्थान विधानसभा सीट के लिए कांग्रेस से पूर्व सांसद रंजीत रंजन साथ ही राहुल गांधी के करीबी कहे जाने वाले चंदन यादव को तारापुर विधानसभा सीट का पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपालन द्वारा निर्देश जारी कर किया गया है।

मालूम हो कि रंजीत रंजन कुशेश्वरस्थान में कांग्रेस के उमीदवार अतिरेक के लिए चुनाव प्रचार कर वोट मांगेंगी और दूसरी तरफ उनके पति जाप प्रमुख पप्पू यादव अपनी पार्टी के प्रत्याशी योगी चौपाल के लिए वोट मांगेंगे। इससे स्पष्ट रूप ई यह कहा जा सकता है कि इस उप चुनाव में पति-पत्नी के बीच सीधी राजनीति टक्कर देखने को मिलेगी।

बिहार विधानसभा की दो रिक्त सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस और राजद में तकरार के बाद दोनो पार्टी ने अपने-अपने उमीदवारों को रानीतिक मैदान में उतारे हैं। पार्टी सिर्फ कुशेश्वरस्थान स्थान से चुनाव लड़ने के लिए मन बनाई थी। इस विधानसभा क्षेत्र से 2020 में भी कांग्रेस ने उमिडवारी जताया था। परंतु जदयू से हार का सामना करना पड़ा। इस लिहाज़ से कांग्रेस का क्षेत्र पर पहला उमीदवारी बन रहा था। परंतु, सहयोगी पार्टी आरजेडी बिना कांग्रेस के सहमति के तारापुर सहित कुशेश्वरस्थान से भी राजद से उमीदवार उतार दिया। इससे झल्ला के कांग्रेस ने आरजेडी से अपनी दोस्ती को ताक रखकर दोनों सीट से अपने उम्मीदवार खड़े कर दिए।

स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी होते ही होने लगा बवाल

चुनाव में स्टार प्रचारक की अहम भूमिका होती है। पार्टी की ओर से दोनों क्षेत्रों के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट निकाली गई है। इस लिस्ट में यादव जाति के किसी भी नेता का नाम नहीं होने पर राजनीति तेज हो गई थी। साथी पार्टी के इस निर्नय पर भी सवाल उठाने वालों की होड़ लग थी। जिसके बाद माहौल को भांपते हुए कांग्रेस आलाकमान ने यादव जाति के दो बड़े नेताओं को उपचुनाव का प्रभारी नियुक्त कर दिया। रंजीत रंजन कुशेश्वरस्थान और चंदन यादव तारापुरकी पर्यवेक्षक बनाए गए हैं।

You cannot copy content of this page