May 27, 2022

बिहार में बिछेगा फैक्ट्री का जाल – अडानी, आइटीसी व लूलू ग्रुप करेगी निवेश, जानें- कितनों को मिलेगा रोजगार..

adani investment in bihar

डेस्क : बिहार में करीब लंबे अरसे से बड़े-बड़े फैक्ट्री की मांगे चल रही है। क्योंकि सूबे में बड़े – बड़े उद्योग न होने की वजह से लाखों मजदूर दुसरे राज्य में पलायन होने पर मजबूर होते हैं। इसी बीच बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन के द्वारा लगातार नए नए क्षेत्रों में उद्योग लगाए जा रहे हैं।

adani investment in bihar

बीते दिनों दिल्ली में आयोजित बिहार इन्वेस्टर्स मीट में 30 से ज्यादा बड़ी कंपनियां मौजूद थीं। दुबई से आए लुलु ग्रुप के चेयरमैन भी शामिल हुए। अदाणी इंटरप्राइजेज के निदेशक प्रणव अडानी ने कहा- बिहार जल्द ही संभावनाएं तलाशने के लिए टीम भेजेगा। वही, दुबई के अदानी, आईटीसी और लुलु ग्रुप ने भी बिहार में निवेश में दिलचस्पी दिखाई है। आईटीसी, अदानी और लुलु ग्रुप ने बिहार में निवेश की घोषणा की।

अदाणी इंटरप्राइजेज के निदेशक एवं प्रबंध निदेशक प्रणव अदानी ने कहा कि बिहार तेजी से निवेश के लिए एक बेहतर जगह के रूप में उभर रहा है। इसे देखते हुए अदाणी समूह जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल बिहार भेजेगा। वहां निवेश के अवसर तलाशे जाएंगे। दुबई से पहुंचे लुलु ग्रुप के चेयरमैन एसए युसूफ ने कहा कि बिहार में उनका ग्रुप फूड प्रोसेसिंग सेक्टर में निवेश करने के साथ ही शॉपिंग मॉल भी बनाएगा। आईटीसी के चेयरमैन संजीव पुरी ने भी बिहार में बड़े निवेश की घोषणा की।

इन्वेस्टर्स मीट में अदानी, लुलु, आईटीसी, एचयूएल, कोका कोला, अमेजन, फ्लिपकार्ट, सैमसंग, अमूल, ब्रिटानिया, पतंजलि, उषा मार्टिन, होंडा, एलएंडटी, अरविंद मिल्स, टाटा ब्लूस्कोप, केआई इंडस्ट्रीज के अलावा। श्री सीमेंट और अंबुजा समूह आदि ने भाग लिया। उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने इस मौके पर कहा कि बिहार के दरवाजे उद्योग जगत के लिए हमेशा खुले हैं। देश के उद्योगपतियों को बिना किसी झिझक के बिहार आना चाहिए। उद्योग क्षेत्र में तेजी से बढ़ रहे बिहार में निवेश के अवसरों का लाभ उठाएं। कार्यक्रम में बिहार विकास आयुक्त विवेक कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. एस सिद्धार्थ और प्रमुख सचिव उद्योग विभाग संदीप पौंड्रिक भी मौजूद थे।