December 7, 2022

Patna Junction पर दिखेगा यूरोप के स्‍टेशनों जैसा नजारा, पहले फ्लोर से मिलेगा आटो और कैब, जानें –

Patna Junction

न्यूज डेस्क: बिहार की राजधानी पटना में जाम को लेकर लोग काफी परेशान रहते हैं। इसके लिए सरकार की ओर से लोगों से राहत दिलाने के लिए प्रयास किया की जा रही है। इसके लिए पटना जंक्शन के नजदीक की पूरी सूरत बदलने वाली है।

इस संबंध में प्रशासन दावा कर रही है कि इन बदलाव के बाद जंक्शन गोलंबर पर जाम से स्थाई रूप से छुटकारा मिल जाएगी। पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा बकरी मंडी में जी2 मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब बनाने की सभी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इस योजना पर 68.8 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

मिली जानकारी मुताबिक मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब का निर्माण 18 माह में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस परियोजना पर पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड काम कर रही है, जिसे जून 2023 तक पूरा किया जाना है। इतना ही नहीं, पटना जंक्शन को मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट और मल्टी लेवल पार्किंग से जोड़ने के लिए मेट्रो के निर्माण कार्य ने भी रफ्तार पकड़ ली है।

जंक्शन के ग्राउंड फ्लोर पर मिल जाएगी सिटी बस

पटना जंक्शन से 440 मीटर लंबे मेट्रो के जरिए लोग मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब तक पहुंच सकेंगे. पांच एकड़ में बन रहे मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब का ग्राउंड फ्लोर सिटी बस सेवा के लिए उपलब्ध होगा। इसका भवन दो एकड़ में होगा और अन्य हिस्से खुले रहेंगे। यहां इलेक्ट्रिक चार्जिंग प्वाइंट भी बनने जा रहा है।

फर्स्ट फ्लोर से कैब और आटो की सुविधा

पहली मंजिल पर ऑटो और कैब उपलब्ध होंगे, जबकि तीसरी मंजिल पर कारें उपलब्ध होंगी। लोगों के बैठने और इंतजार करने की भी व्यवस्था होगी। यहां खाने-पीने के सामान सहित जरूरी वस्तुओं के स्टॉल और एटीएम आदि की सुविधाएं भी उपलब्ध रहेंगी। बतादें कि हब और मल्टी लेवल पार्किंग जाने के लिए बन रहे सब-वे का निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है। 118 मीटर लंबा सब-वे का निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है। पटना जंक्शन की तरफ आगमन और प्रस्थान का गेट 14 मीटर चौड़ा रहेगा।

ये भी पढ़ें   यात्रीगण ध्यान दें! कटिहार-बरौनी के बीच चलने वाली 12 एक्सप्रेस और 9 पैसेंजर रद्द, जानें - पूरा अपडेट..

इन स्थान पर बनेगा प्रवेश द्वार

मेट्रो में प्रवेश के लिए पटना जंक्शन के स्टीम इंजन के पास एक प्रवेश द्वार बनने जा रहा है। एस्केलेटर, ट्रैवलेटर, लिफ्ट और रैंप होगा। पटना जंक्शन से यात्री एस्केलेटर, ट्रैवलेटर लिफ्ट और रैंप की मदद से बकरी मंडी में बन रहे मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब तक पहुंच सकेंगे।